जम्मू-कश्मीर में आतंकियों का काल बना ‘बाहुबली’, जवानों को दे रहा स्पेशल ट्रेनिंग

0
22
indian army bahubali

दुशमनों से निपटने और उन्हें मुहतोड़ जवाब देने के लिए सुरक्षाकर्मीयों को एक खास ट्रेनिंग दी जा रही हैं। दरअसल जम्मू- कशमीर में आतंकी लगातार सुरक्षाकर्मी और सेना पर हमला करते रहते हैं। अब दुश्मनों से निपटने के लिए उन्हें जो ट्रेनिंग दी जा रही है वहां कोई मामूली ट्रेनिंग नहीं ​बल्कि एक स्पेशल ट्रेनिंग है जिसे खुद बाहुबली देंगे।

via

दरअसल बाहुबली के नाम से मशहूर CISF के डिप्टी कमांडर राजीव पंवार है। वह जम्मू-कश्मीर की पुलिस की एंटी फिदायीन युनिट को लड़ने की ट्रेनिंग देंगे। उनकी महज 42 साल उम्र है और वहां NISA कमांडो हैं। राजीव इससे पहले भी हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों के अफसरों को ट्रेनिंग दे चुके हैं। हालांकि अब उन्हें जम्मू-कश्मीर पुलिस की एंटी फिदायीन विंग 40 जवानों को तैयार करने का जिम्मा दिया गया है। उनसे जवानों ने करीब दो हफ्ते तक ट्रेनिंग ली। और अब अक्टूबर में अन्य जवान उनसे ट्रेनिंग लेने के लिए आ रहे हैं।

via

बता दे कि राजेश रंजन का कहना है कि जम्मू-कश्मीर पुलिस का सबसे ज्यादा सामना आतंकियों से होता है, ऐसे में उन्हें स्पेशल ट्रेनिंग दी जा रही है। दो हफ्ते में सैनिकों को हर तकनीक से निपटने की ट्रेनिंग दी गई थी। इस ट्रेनिंग में बताया जा रहा है कि अगर कोई आतंकी AK47 के साथ है तो उससे कैसे निपटा जाए। हर आतंकी की अलग तकनीक होती है, इसलिए उससे निपटने की भी तकनीक अलग है। वहीं जवानों ने एनकाउंटर में काम आने वाली नई तकनीक सीखी हैं। अब इस ट्रेनिंग के जरिए जवानों इस तरह तैयार किया गया है, जिससे वह 10-15 मिनट में आतंकियों का खात्मा किया जा सके।

हालांकि राजीव रंजन 6 फीट, 2 इंच लंबे हैं और हर तरह से आतंकियों का खात्मा कर सकते हैं। राजीव ने हाल ही में करीब 8000 CISF कमांडो को ट्रेन किया है, जिन्हें एयरपोर्ट और कई अन्य स्थानों पर तैनात किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here