चुनाव के दौरान हो सकता है आतंकी हमला : सूत्र | Terrorist attack may take place during elections

0
48
terror attack alert-

भारत-पाकिस्तान की सीमा पर चल रहे तनाव के बीच जम्मू-कश्मीर में आतंकी गतिविधि कम होने का नाम नहीं ले रही है। इधर, सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि लोकसभा चुनाव के दौरान आतंकवादी हमला कर सकते हैं। जांच एजेंसियों सेना को अलर्ट कर दिया है। इसके बाद संदिग्ध क्षेत्रों में सुरक्षा बढ़ा दी है।

Read More : सुषमा स्वराज बोलीं, अब आतंकी हमला हुआ तो चुप नहीं बैठेंगे Sushma Swaraj said, now terrorists will not be silent if attacked

अमेरिका पाक से बोला, इंडिया पर अब हमला हुआ तो खैर नहीं

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद आतंकवाद के खिलाफ भारत सहित अमेरिका, रूस, ब्रिटेन सहित अन्य देशों ने आवाज उठाई। इसी बीच अमेरिका ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि आतंकी संगठनों के खिलाफ ठोस कार्रवाई और यदि अब इंडिया पर फिर से आतंकी हमला हुआ तो इस्लामाबाद के लिए ‘बहुत मुश्किल’ हो जाएगी। अमेरिका के प्रशासनिक अधिकारी ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा कि यह जरूरी है कि पाकिस्तान जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठनों पर काबू करने के लिए ठोस एवं निर्णायक कार्रवाई करें, ताकि फिर से कोई आतंकी हमला कहीं ना हो।

Read More : सुषमा स्वराज बोलीं, अब आतंकी हमला हुआ तो चुप नहीं बैठेंगे Sushma Swaraj said, now terrorists will not be silent if attacked

पुलवामा में हुए आतंकी हमले का जवाब तो भारत ने बालाकोट में एयरस्ट्राइक कर दे ही दिया है लेकिन आतंक के खिलाफ भारत लगातार पाकिस्तान को घेर रहा है। हाल ही में अमेरिका ने पाकिस्तान को आतंक के खिलाफ कदम उठाने के लिए सख्त हिदायत दी है। अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने पाकिस्तान को आतंकी संगठनों पर एक्शन के लिए कहा है।

must read: आतंकी मसूद अजहर को ‘जी’ बोले राहुल गांधी

पाकिस्तान ने दिया भरोसा

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया है। जॉन बोल्टन ट्वीट कर बताया कि ‘पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने मुझे आश्वासन दिया है कि पाकिस्तान सभी आतंकवादी संगठनों से दृढ़ता से निपटेगा और भारत के साथ तनाव कम करने की दिशा में भी कोशिश जारी रखेगा।’

भारत के साथ खड़ा है अमेरिका

अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने कुरैशी से ऐसी समय बातचीत की है जब भारत के विदेश सचिव विजय गोखले अमेरिका की दौरे पर है। अपने अमेरिकी दौरे के पहले गोखले ने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो से मुलाकात की। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के मुताबिक़ पोंपियो ने गोखले आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत सरकार के साथ खड़ा होने का वादा किया। साथ ही पुलवामा हमले के दोषियों को न्याय के कठघरे में लाने और पाकिस्तान के उसकी जमीन पर सक्रिय आतंकवादी संगठनों के खिलाफ ठोस कदम उठाने की अनिवार्यता पर चर्चा की।

must read: पाकिस्तान के एफ-16 जेट इस्तेमाल करने से मुश्किल में आया अमेरिका | pakistan used f-16 fighter jet against india which lands america in awkward situation

40 जवान हुए शहीद

गौरतलब है कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में CRPF के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले के जवाब में भारत ने पाकिस्तान की सीमा में घुसकर एयरस्ट्राइक की थी और आतंकी अड्डों को ध्वस्त किया था। एयरस्ट्राइक से बौखलाए पाकिस्तान ने भी दूसरे दिन अपने लड़ाकू विमान भारत की सीमा में भेजे जिसे वायुसेना के वीर जवानों ने खदेड़ दिया था। इस दौरान विंग कमांडर अभिनन्दन पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में जा घुसे थे और उनका लड़ाकू विमान मिग 21 क्रेश हो गया था। इसके बाद पाकिस्तान ने अभिनन्दन को गिरफ्तार कर लिया था लेकिन भारत के दबाव के कारण पाकिस्तान को अभिनन्दन को छोड़ना पड़ा। अभिनन्दन की स्वदेश वापसी को भारत की सबसे बड़ी कूटनीतिक जीत बताया गया है।

must read: राहुल के ‘अजहर जी’ के जवाब में रविशंकर का ‘हाफिज जी’ | Congress attacks BJP in reply to Rahul Gandhi’s Masood comment

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here