Breaking News

राहुल बताएं, लश्कर ए तैयबा से क्या रिश्ते हैं-शाह

Posted on: 23 Jun 2018 13:43 by Praveen Rathore
राहुल बताएं, लश्कर ए तैयबा से क्या रिश्ते हैं-शाह

जम्मू। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को दो दिनी जम्मू-कश्मीर दौरे में कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि वह कितने भी षडयंत्र करें लेकिन कश्मीर अलग नहीं होगा। उन्होंने यहां डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर आयोजित रैली को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता कश्मीर के सम्बन्ध में बयान देते हैं और उनके बोलते ही लश्कर-ए-तैयबा उसका समर्थन कर देता है। राहुल गांधी जवाब दें कि आपके नेता के बयान को लश्कर-ए-तैयबा समर्थन कर रहा है, यह कांग्रेस और लश्कर-ए-तैयबा के बीच में किस प्रकार का रिश्ता है? उन्होंने कहा कि कोई भी अगर हमारे देश की सीमाओं से छेड़छाड़ करने का प्रयास करेगा तो हमारी देश की सेना उसे माकूल जवाब देने के लिए पूरी तरह सक्षम है।

इसलिए लिए महबूबा का साथ छोड़ा
शाह ने महबूबा सरकार से समर्थन वापस लेने के बारे में कहा कि भाजपा के लिए सरकार नहीं बल्कि जम्मू और कश्मीर का विकास और उसकी सुरक्षा एक मात्र उद्देश्य है। महबूबा सरकार ने विकास का संतुलन बिगाड़ा। केंद्र की तरफ से जारी फंड में महबूबा सरकार ने जम्मू और लद्दाख से भेदभाव किया।

उन्होंने आगे कहा जो 70 साल में नहीं हुआ वह मोदी सरकार ने जम्मू और कश्मीर के विकास के लिए करने का प्रयास किया लेकिन राज्य की सरकार द्वारा कोई विकास का कार्य आगे नहीं बढ़ाया।

शुक्रवार को कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज के बयाान पर पलटवार करते हुए शाह ने कहा कि भाजपा कभी जम्मू कश्मीर को भारत से अलग नहीं होने देगी। जम्मू कश्मीर हिंदुस्तान का अटूट हिस्सा है। श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने इससे अपने खून से सींचा है। आज जम्मू और कश्मीर पूरे भारत के साथ जुड़ा है तो वह डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी के बलिदान के कारण जुड़ा है, इससे पहले उन्होंने आगामी लोकसभा चुनाव की रियासत में तैयारी के लिए भाजपा और संघ परिवार के नेताओं से बातचीत की। वहीं, अपनी यात्रा के दूसरे दिन यानी रविवार को भाजपा अध्यक्ष प्रजा परिषद आंदोलन पर आधारित पुस्तक का भी विमोचन करेंगे। उसके बाद दिल्ली लौटेंगे। इस दौरे पर उनके साथ भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव संगठन राम लाल और डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी रिसर्च फाउंडेशन के निदेशक डॉ. अनीरबन गांगुली पहुंचे हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com