Breaking News

टेक महिंद्रा के सीईओ का बड़ा बयान, 94% आईटी ग्रैजुएट नौकरी काबिल नहीं

Posted on: 04 Jun 2018 10:43 by Ravindra Singh Rana
टेक महिंद्रा के सीईओ का बड़ा बयान, 94% आईटी ग्रैजुएट नौकरी काबिल नहीं

नई दिल्ली: देश की जानी मानी कंपनी के टेक महिंद्रा सीईओ चंद्र प्रकाश गुरनानी ने अपने एक बयान में बड़ा खुलासा किया है, चंद्र प्रकाश ने कहा कि 94 फीसदी आईटी ग्रैजुएट भारतीय बड़ी आईटी कंपनियों में नौकरी के लिए काबिल नहीं हैं। चंद्र प्रकाश टेक महिंद्रा के अगले चरण की नींव रखने के साथ ही अगली पीढ़ी के लिए एक रोडमैप तैयार किया जा रहा है।

चंद्र प्रकाश ने कहा कि मैनपावर स्किलिंग और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, ब्लॉकचेन, साइबर सिक्यॉरिटी, मशीन लर्निंग जैसी नई टेक्नोलॉजी में प्रवेश करना भारतीय आईटी कंपनियों के लिए बहुत बड़ी चुनौती है। चंद्र प्रकाश ने बताया कि नासकॉम का कहना है कि 2022 तक साइबर सिक्यॉरटी में करीब 6 मिलियन यानी 60 लाख लोगों की आवश्यकता है, लेकिन हमारे पास स्किल की कमी है।

Image result for टेक महिंद्रा सीईओ चंद्र प्रकाश गुरनानी

मुद्दा यह है कि अगर मैं रोबोटिक्स व्यक्ति की खोज में हूं और इसकी बजाय मुझे मेनफ्रेम का व्यक्ति मिलता है, तो यह स्किल गैप बनाता है। यह एक बड़ी चुनौती के रूप में आता है। चंद्र प्रकाश कहते हैं कि आप टेक महिंद्रा आएंगे, तो देखेंगे कि मैंने 5 एकड़ का टेक और लर्निंग सेंटर बनाया है।

अन्य टॉप कंपनियों ने भी कर्मचारियों की स्किल के लिए इस तरह की सुविधाएं बनाई हैं। सीखने की योग्यता, स्किल डेवलपमेंट और बाजार के लिए तैयार होने का भार इंडस्ट्री पर शिफ्ट हो रहा है। इन सबके बावजूद टॉप 10 आईटी कंपनियां केवल 6 फीसदी इंजीनियरिंग ग्रैजुएट्स को लेती हैं। चंद्र प्रकाश सवाल करते हैं कि बाकी 94 फीसदी का क्या होता है?

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com