अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट बोला, आप जैसे लोग देश को शांति से नहीं रहने देंगे | What Supreme Court said on Ayodhya Case?

0
58
suprim court

अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर पूजा-अर्चना को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका लगाई गई थी। जिस पर याचिकाकर्ता का पक्ष सुनने के बाद कोर्ट ने केस को खारिज कर दिया और सख्त टिप्पणी करते हुए कहा कि आप जैसे लोग देश को शांति से नहीं रहने देंगे। दरअसल, अयोध्या में विवादित श्रीराम जन्मस्थली पर पूजा-अर्चना की अनुमति मांगने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई गई थी। शुक्रवार को कोर्ट ने याचिकाकर्ता का पक्ष सुनने के बाद याचिका खारिज कर दी। साथ ही चीफ जस्टिस ने सख्त टिप्पणी करते हुए कहा कि आप जैसे लोग देश को शांति से नहीं रहने देंगे।

Read More : अयोध्या मामला : रविशंकर को मध्यस्थ सदस्य बनाए जाने पर ओवैसी का सवाल | Ayodhya case Owaisi questioned if Ravi Shankar becomes intermediary member

अयोध्या मामले में नया रूख, सुप्रीम कोर्ट पहुंचा निर्मोही अखाड़ा

अयोध्या मामले पर निर्मोही अखाड़ा ने उच्चतम न्यायालय में केंद्र सरकार के विरोध में याचिका दाखिल कर दी है। निर्मोही अखाडा का कहना है कि केंद्र सरकार द्वारा भूमि अधिग्रहण से वह मंदिर नष्ट हो जाएंगे, जिनका संचालन अखाड़ा करता है, इसलिए अखाड़े  की ओर से कोर्ट में विवादित भूमि पर फैसला करने के लिए याचिका दी |

केंद्र सरकार ने अदालत से राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद की गैर विवादित जमीन को लौटाने का अनुरोध किया था, जिसके विरोध में निर्मोही अखाडें ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दर्ज की है। सुप्रीम कोर्ट में इलाहाबाद हाईकोर्ट के सितंबर 2010 के फैसले के खिलाफ दायर 14 अपीलों पर सुनवाई हो रही है। इसमें सरकार द्वारा गैर विवादित जमीन उनके मालिकों को लौटाने की याचिका पर भी सुनवाई हो रही है। 9 जनवरी को केंद्र सरकार ने अयोध्या में विवादों में रहने वाली  राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद स्थल के पास 1991 में जब्त की गई 67 एकड़ जमीन को उसके मालिकों को लौटाने के लिए उच्चतम न्यायालय को याचिका दर्ज की थी।

Read more: बसपा की तीसरी सूची जारी, इन 5 उम्मीद्वारों पर जताया भरोसा | BSP releases third list, trusts on these 5 candidates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here