सुप्रीम कोर्ट का फैसला, कर्नाटक के 17 अयोग्य विधायक लड़ सकेंगे चुनाव

0
42
Suprime Court

नई दिल्ली। कर्नाटक की राजनीति में एक बार उबाल आ गया है। कांग्रेस और जेडीएस के 17 अयोग्य विधायकों की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुना दिया है। शीर्ष अदालत ने फैसला सुनाते ने अपने फैसले में स्पीकर द्वारा विधायकों को अयोग्य करार देने को सही सही ठहराया है। अब 5 दिसंबर को कर्नाटक में 15 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में किस्मत आजमा सकते हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि विधानसभा स्पीकर ये तय नहीं कर सकता है कि विधायक कब तक चुनाव नहीं लड़ सकता है। सुप्रीम कोर्ट फैसला सुनाते हुए कहा कि स्पीकर को यह शक्ति नहीं है कि विधायकों को उपचुनाव लड़ने से रोके। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में यह भी कहा कि विधायकों को अयोग्य करार देने का फैसला सही तो है, लेकिन उन्हें 2023 तक अयोग्य करार देना गलत है। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी टिप्पणी की कि हाल के दिनों में इस तरह की प्रवृत्ति बढ़ गई है कि स्पीकर संवैधानिक मूल्यों की अनदेखी करने लगे हैं।

लोग स्थायी सरकार से वंचित किए जा रहे हैं। कर्नाटक विधानसभा के तत्कालीन स्पीकर रमेश कुमार की भूमिका पर सवाल उठाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि संवैधानिक नैतिकता के रास्ते में राजनीतिक नैतिकता नहीं आनी चाहिए। दरअसल, याचिका में कर्नाटक विधानसभा के पूर्व स्पीकर द्वारा अयोग्य ठहराए जाने के फैसले को चुनौती दी गई थी. सुप्रीम कोर्ट ने 25 अक्टूबर को सभी पक्षों को सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रखा लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here