Breaking News

मध्यप्रदेश में प्रशासन की सख्ती के बीच सब्जी-दूध की आपूर्ति सामान्य, नहीं दिखा किसान आंदोलन का असर

Posted on: 01 Jun 2018 05:40 by Surbhi Bhawsar
मध्यप्रदेश में प्रशासन की सख्ती के बीच सब्जी-दूध की आपूर्ति सामान्य, नहीं दिखा किसान आंदोलन का असर

भोपाल: किसान यूनियन ने अपनी मांगो को लेकर मध्यप्रदेश सहित देश के कई राज्यों में 10 दिन के आंदोलन का आवाहन किया है। पंजाब से खबर आई है कि यहां किसानो ने दूश और सब्जियां सड़को पर फेंककर विरोध जताया है, वही मध्यप्रदेश में शान्ति बनी हुई है।

आईए नजर डालते है मध्यप्रदेश के कुछ जिलो पर-

LIVE UPDATES:

झाबुआ में धारा 144 लागू, किसानो से शांति बनाए रखने की अपील.

नवबहार सब्जी मंडी में नहीं पहुंची सब्जियां.

शाजापुर-
शाजापुर जिले में ये आंदोलन का असर नहीं दिख रहा है सामान्य स्थितियों के बीच सब्जियों की खरीदी बिक्री जारी है। दूश भी गांवो से शहरो में शांतिपूर्वक पंहुचा है। शहर में पुलिस बल तैनात है और हर कदम पर नजर बनाए हुए है।1

इंदौर-
शहर में भी पुलिस प्रशासन की सख्ती से ये आंदोलन फ्लॉप साबित होता दिख रहा है। संभागायुक्त राघवेंद्र सिंह के निर्देश के बाद आईडीए और  निगम के अधिकारियों को भी कानून व्यवस्था में लगाया गया है। कलेक्टर निशांत वरवड़े ओर डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र सहित एडीएम/एसपी ओर सभी एसडीएम सहित पुलिस अधिकारी सुबह 5 बजे से सतत भ्रमण कर रहे है। इसके साथ ही राघवेंद्र सिंह और एडीजी अजय शर्मा खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं।3

इंदौर संभाग के धार, झाबुआ, बड़वानी, खंडवा, खरगोन, अलीराजपुर में पूरी तरह शांति बनी हुई है। वही उज्जैन, देवास, महिदपुर, आगर, रतलाम और नीमच में भी शांति बनी हुई है।

मंदसौर-
मंदसौर में भी किसान आंदोलन का कोई असर नहीं दिख रहा है यहां भी प्रशासन की सख्ती के बाद ये फ्लॉप होता नजर आ रहा है पूरे शहर में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है और थाना क्षेत्र में थाना प्रभारी मानीटरिंग कर रहे है।  मंदसौर, पिपलियामंडी, गरोठ, भानपुरा शामगढ़, सुवासरा में पूरी तरह शांति दिखाई दी है। आंदोलन करने वाले कोई भी युनियन या संगठन कार्यकर्ता सुबह से कहीं नजर नहीं आए है ।Image result for शाजापुर में किसान आंदोलन का असर नहीं

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com