Breaking News

दिल्ली में दलबदल का राज, एक को टिकट, दूसरा पार्टी पार

Posted on: 28 Apr 2019 18:31 by Surbhi Bhawsar
दिल्ली में दलबदल का राज, एक को टिकट, दूसरा पार्टी पार

लोकसभा चुनाव का अंतिम दौर जैसे-जैसे करीब आ रहा है, सत्ता का संग्राम भी तेज होता जा रहा है। उत्तर-पश्चिम दिल्ली में घमासान कुछ ज्यादा ही है। यहां कई दलों से कूदते-फांदते भाजपा में आए सूफी गायक हंसराज हंस को लोकसभा का टिकट दिया गया है। वहीं भाजपा ने दिल्ली के एकमात्र दलित चेहरे उदित राज का टिकट काट दिया। वे 2014 से सांसद थे।

टिकट कटते ही उन्होंने भी भाजपा छोड़ी औऱ कांग्रेस का दामन थाम लिया। हालांकि तब तक वहां से भी उम्मीदवार तय हो चुका था, लिहाजा सत्रहवीं लोकसभा में जाने का रास्ता तो बंद हो ही गया। कुल मिलाकर अब उत्तर पश्चिम दिल्ली में हंसराज हंस का मुकाबला कांग्रेस के राजेश लिलोठिया और आम आदमी पार्टी के गुगन सिंह से होगा। तीनों ही दिल्ली के लिहाज से नए प्रत्याशी हैं। पार्टी बदलते ही उदित राज के बयान भी बदलने लगे। वे कहने लगे मैं तो पांच साल पहले ही कांग्रेस में आना चाहता था। भाजपा ने उन्हें दलितों के हक के लिए जो आवाज उठाने की सजा दी है।

बीते साल 2 अप्रैल को दलित संगठनों ने दलितों से जुड़ा कानून कमजोर करने पर मोदी सरकार के खिलाफ भारत बंद कराया था। राज ने भी उसका समर्थन किया था। वे मानते हैं कि अगर मैं ऐसा न कर चुप रहता तो शायद टिकट न कटता। अब बात करें हंसराज हंस की तो चुनाव लड़ना ही उनका शगल है। जालंधर के बाशिंदे और वाल्मिकी समाज के सदस्य हंस गायन के साथ बतौर दलित नेता स्थापित होने के लिए राजनीति में भी उठापटक करते रहे हैं। 2002 में शिरोमणि अकाली दल से पारी की शुरुआत की औऱ विधानसभा चुनाव में जमकर प्रचार भी किया।

२००९ में जालंधर से बतौर अकाली उम्मीदवार चुनाव भी लड़ा। अगली बार टिकट न मिला तो राजनीति को गंदा बताने लगे। इसके बाद कैप्टन अमरिंदरसिंह से नजदीकियां उन्हें कांग्रेस में ले आई। 2016 में भाजपा का दामन थामा। उम्मीद थी विधानसभा के टिकट या राज्यसभा की सदस्यता की। नहीं पूरी हुई तो भाजपा का दामन थाम लिया। पंजाब छोड़ कर दिल्ली आ गए चुनाव लड़ने की खातिर। दलबदल के इस राज में उत्तर-पश्चिम दिल्ली की जनता किसका साथ देती है, इसके लिए तो चुनावी नतीजों का इंतजार करना ही होगा, लेकिन आयाराम-गयाराम से शुरू हुआ दलबदलुओं का दौर जारी है औऱ जारी रहेगा। इसके खत्म होने की संभावना दूर-दूर तक नहीं दिखती।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com