एक मां का लंदन से भारत तक का सफर..

0
8

इंदौर। निया और नैना आज सफल वुमन हैं। सफल बेटियों की मां इंदौर की पूर्व महापौर डॉ. उमा शशि शर्मा के पूरे सफर के बारे में बता रहा है घमासान डॉट कॉम।

मेडिकल, राजनीति, घर-परिवार और एक मां का किरदार निभाने वाली डॉक्टर उमाशशि शर्मा ने बताया कि बेटी निया और नैना के जन्म के बाद लंदन चली गई थीं, सोच लिया था कि अब भारत नहीं आऊंगी, लेकिन जब बात बेटियों के भविष्य की आती है तो मां कैसे पीछे रह सकती है। इसी सिलसिले में फॉरेन और इंडिया के काफी अपडाउन हुए।Image may contain: 3 people

काफी अप-डाउन के बाद फाइनली सोच लिया कि बेटियों के लिए भारत में ही सेटल होना है। मां के लिए बच्चों का भविष्य सब कुछ होता है। अच्छी परवरिश देना, संस्कार देना और करियर में आगे बढ़ाना, इसमें मां का सबसे बड़ा योगदान होता है, यही काम मैंने भी किया। निया इंजीनियर और डांसर हैं, वही नैना डॉक्टर है। दोनों ही अपने करियर में सफल है।Image may contain: 3 people

नेता नहीं हूं बेटी को सपोर्ट करने आई हूं
उन्होंने  बताया कि घर परिवार और पॉलिटिक्स के साथ ही मेडिकल फील्ड में सामंजस  बिठाना कठिन है, पर नामुमकिन नहीं। मैंने बेटियों को पूरा टाइम दिया, हर समय सपोर्ट किया।Image may contain: 2 people

मैं एक वाक्या बताती हूं राजनीति के समय का
निया डांसर है, उसका प्रोग्राम रविंद्र नाट्य गृह में था, उसे सपोर्ट करने के लिए मैं साथ में गई थी और हाल में सबसे पीछे बैठ गई। लोगों ने जब देखा कि मैं बैठी हूं तो मुझे स्टेज पर ले गए, वेलकम करने लगे, लेकिन उस समय मैंने कहा कि मैं यहां नेता नहीं, अपनी बेटी को सपोर्ट करने एक मां आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here