Breaking News

मप्र: भोजशाला के दर्शन करने पहुंचे प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह

Posted on: 10 Feb 2019 21:47 by mangleshwar singh
मप्र: भोजशाला के दर्शन करने पहुंचे प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह

10 दिन में कर्ज माफ करेंगे ये उन्होंने कहा था, दो महीने का समय बीत गया और आज भी किसान प्रतीक्षा कर रहा है धार – प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेशसिंह 16 फरवरी को नरेन्द्र मोदी के प्रस्तावित दौरे को लेकर आज धार आए थे। यहां पर उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं की मीटिंग ली और बसंत पंचमी होने के अवसर पर वे भोजशाला पहुंचे और वहां दर्शन किए। इसके पूर्व पत्रकारों से चर्चा करते हुए आपने प्रदेश सरकार को आडे हाथों लेते हुए कहा कि भ्रष्टाचार को रोकने के लिए सरकार गंभीर नहीं है। गोशाला खोलने की बात जो कमलनाथ कह रहे है उस बात में कोई दम नहीं है कई जगह गाय मर रही है। भोजशाला के बारे में कहा कि विधिवत पूजा अर्चना की अनुमति वहां पर मिलना चाहिए लेकिन ये विषय भी न्यायालय के अधीन है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि आज सुखद संयोग है कि आज बसंत पंचमी का पवित्र दिवस था चूंकि मैं आज धार में था इसलिए मुझे लगा कि मैं यहां पर हूॅ तो वहां जाकर आज के पवित्र दिवस पर मां के चरणों में जाकर प्रणाम करना चाहिए इसलिए वहां जाकर नमन किया है। देखिए ये विषय लम्बे समय से सीधे तौर पर कहे तो ये विवाद का केन्द्र बना हुआ है। ये बात सही है कि देष और प्रदेश के हिन्दूओं के आस्था के केन्द्रों में यह स्थान भी शामिल है। और इसलिए बडी संख्या में लोग चाहते है कि विधिवत पूजा अर्चना की अनुमति वहां पर मिलना चाहिए लेकिन ये विषय भी न्यायालय के अधीन है। इसलिए उसके निर्णय के बाद कोई उचित रास्ता और समाधान निकलेगा ऐसी हम सब उम्मीद करते है।

हम सब की भावना है कि वहां विधिवत पूजा अर्चना होना चाहिए। चाहे केन्द्र में हमारी सरकार हो, या मध्यप्रदेश में हमारी सरकार हो। सोच यही है कि ऐसे जितने विवाद है इनका निराकरण सार्थक तरीके से होना चाहिए। बगैर किसी तरीका का विवाद बडे तनाव बडे और दोनो ही पक्षों को समाधान का अगल रास्ता मिले। इसका प्रयास करना चाहिए। ये चुनाव के पहले इनको हिन्दुओं से संबंधित हिन्दुओं के सम्मान, श्रद्धा और भावनाओं से जुडे हुए सारे विषय याद आते है । चुनाव बीतन के बाद इनको कुछ याद नहीं आता है।

अभी अभी गौषाला में हम सबको मालुम है 40 गाय एक साथ भूख और ठंड से मर गई। तब इनको गायों के संरक्षण का विषय ध्यान में नहीं आया। इन्होंने कहा था कि हर पंचायत में गौषाला बनाएंगे अब ये बताए कि कितनी पंचायतों में गौशाला बना दी। गौचर की जो जमीन थी वह दिग्विजयसिंह के समय थी लोगों को आवंटित कर दी गई।

दुर्भाग्य से जिन्होंने भ्रष्टाचार को देश में जन्म दिया वही आज भ्रष्टाचार की बात कर रहे है उनके मूह से शोभा नहीं देता। किसानों के कर्ज माफी की बात है, कर्ज माफी के मुद्दे पर ये सरकार बनी थी, लेकिन 10 दिन में कर्ज माफ करेंगे ये उन्होंने कहा था, दो महीने का समय बीत गया और आज भी किसान प्रतीक्षा कर रहा है। और ये लाल, पीले, हरे फार्म भरवा रहे है। उसका कारण यही है कि ये लोकसभा तक जनता को भ्रमित करना चाहते है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com