Breaking News

ख़िलाड़ी को समलैंगिक रिश्ते पर परिवार दे रहा जेल की धमकी | Sprinter Dutee Chand Player threatened From Family over Gay Relationship

Posted on: 20 May 2019 14:11 by Parikshit Yadav
ख़िलाड़ी को समलैंगिक रिश्ते पर परिवार दे रहा जेल की धमकी | Sprinter Dutee Chand Player threatened From Family over Gay Relationship

हैदराबाद | समलैंगिक रिश्ते का खुलासा करने वाली भारत की सबसे तेज धाविका दुती चंद के सामने अब अपने परिवार द्वारा स्वीकार किए जाने की कड़ी चुनौती है। एशियाई खेल 2018 में दो रजत पदक जीतने वाली 23 साल की दुती दुनिया ने सार्वजनिक रूप से समलैंगिक रिश्ता स्वीकार किया है। हैदराबाद में ट्रेनिंग कर रही दुती ने कहा, मेरे गांव की 19 साल की महिला से पिछले पांच साल से मेरा रिश्ता है। वह भुवनेश्वर के कॉलेज में बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा है। वह मेरी रिश्तेदार है और मैं जब भी घर आती हूं तो उसके साथ समय बिताती हूं। वह मेरे लिए जीवन साथी की तरह हैं और भविष्य में उसके साथ घर बसाना चाहती हूं। उच्चतम न्यायालय ने पिछले साल ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए आपसी सहमति से वयस्कों के बीच समलैंगिक रिश्तों को गैर आपराधिक करार दिया था, लेकिन ऐसे लोगों के बीच विवाह अब भी भारत में वैध नहीं है।

माता पिता को नहीं, बहन को है आपत्ति

सौ मीटर दौड़ में 11.24 सेकंड के समय के साथ राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक दुती ने कहा कि उनके माता-पिता ने अब तक इस रिश्ते पर कोई आपत्ति नहीं जताई है लेकिन उनकी सबसे बड़ी बहन ने उन्हें परिवार से बाहर करने के अलावा जेल भेजने की भी धमकी दी है।दुती ने कहा, मेरे परिवार में मेरी बड़ी बहन का काफी दबदबा है। उसने मेरे बड़े भाई को घर से बाहर कर दिया क्योंकि उसे उसकी पत्नी पसंद नहीं थी। उसने मुझे धमकी दी है कि मेरे साथ भी ऐसा ही होगा। लेकिन मैं भी वयस्क हूं जिसकी निजी स्वतंत्रता है। इसलिए मैंने इस रिश्ते को आगे बढ़ाने और सार्वजनिक करने का फैसला किया। उन्होंने कहा, मेरी बड़ी बहन को लगता है कि मेरी जोड़ीदार की रुचि मेरी संपत्ति में है। उसने मुझे कहा कि इस रिश्ते के लिए वह मुझे जेल भिजवा देगी। दुती ने कहा कि अगर उनकी जोड़ीदार चाहे तो भविष्य में किसी के भी साथ विवाह करने के लिए स्वतंत्र है।

कोर्ट के फैसले से हौंसला

दुती ने साथ ही कहा कि वह अगले महीने विश्वविद्यालय खेलों में हिस्सा लेंगी और उन्हें इस साल होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई करने की उम्मीद है। साथ ही उनका लक्ष्य अगले साल होने वाले ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने का है। इस धाविका ने अपनी जोड़ीदार का नाम नहीं बताया लेकिन कहा कि इस मुद्दे पर उच्चतम न्यायालय के फैसले ने उन्हें सार्वजनिक रूप से सामने आने का हौसला दिया।दुती ने कहा कि इस रिश्ते को सार्वजनिक करने का एक और कारण यह भी था कि वह नहीं चाहती थी कि धाविका पिंकी प्रमाणिक के साथ जो भी हुआ वह उनके साथ भी हो। पिंकी पर उनकी लिव-इन जोड़ीदार ने बलात्कार का आरोप लगाया था। पिंकी 2006 एशियाई खेलों की चार गुणा 400 मीटर रिले में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय महिला टीम की सदस्य थीं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com