देश की राट्रीय राजधानी दिल्ली में लिव इन में रह रहें पार्टनर आफताब अमीन पूनावाला ने श्रद्धा विकास के टुकड़े करके फ्रीज में रख दिए थे। घटना को अंजाम देने के बाद वह 300 लीटर की फ्रीज खरीद कर लाया। उसके बाद वह हर रोज रात के 2 बजे एक-एक टुकड़ा जंगल में फेकने जाता था। पड़ोसियों को इसकी दुर्गध न आए इसके लिए आरोपी खुशबु वाली अगरबत्ती जलाता था। इस केस जुड़े मामले में पुलिस अब पूछताछ करके एक के बाद एक नए-नए खुलासे कर रही है।

लाश के इतने दिनों तक फैंके टुकड़े

आरोपी आफताब हर रोज रात 2 बजे अपने फ्लैट से निकलता था और उसके द्वारा किए गए कल्त के टुकड़ो को एक-एक करके जंगल में फैकता था। उसने करीब 16 दिनों तक टुकड़े फेंके। आरोपी खानसामे (chef) की ट्रेनिंग ले चुका है, इसलिए उसे इस बात की पूरी जानकारी थी कि किसी चीज के टुकड़े कैसे किए जाते हैं।

कटे हुए टुकड़ो से दुर्गंध फैले इसके लिए करता था ये काम

आरोपी से पुलिस लगातार कड़ी पूछताछ कर रही है। सबूत जुटाने के लिए डिजिटल रिकॉर्ड और इलेक्ट्रॉनिक फुट प्रिंट की जांच करनी शुरू कर दी है। जांच के दौरन आरोपी ने बताया कि, घर में रखे टुकड़ो से दुर्गध ने आए इसके लिए वह फ्लैट के कमरों में अगरबत्ती जलाता था।

Also Read : कांग्रेस विधायक Manoj Chawla पहुंचे माँ बगुलामुखी के दरबार में, Ratlam के आलोट में खाद लूट के बनाए गए हैं आरोपी

महिला आयोग ने की कड़ी सजा की मांग

उधर, दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने हत्या के आरोपी को कड़ी सजा देने की मांग की है. स्वाति ने एक ट्वीट में लिखा, ”एक रूह कंपाने वाले मामले में दिल्ली में एक लड़की को उसके बॉयफ्रेंड ने जान से मार दिया और उसके 20 टुकड़े कर फ्रिज में रखे। उसके शव के टुकड़ों को शहर के अलग अलग इलाक़ों में फेंका। समाज में कैसे कैसे दरिंदे पल रहे हैं. पुलिस ने आरोपी को गिरफ़्तार किया है, दरिंदे को कड़ी सजा हो।

पता हो कि दिल्ली पुलिस ने सोमवार को इस हत्याकांड का खुलासा किया है। पुलिस ने बताया कि आफताब अमीन पूनावाला नामक शख्स शादी का झांसा देकर कॉल सेंटर में काम करने वाली महिला सहकर्मी श्रद्धा वाकर को मुम्बई से दिल्ली लेकर आया। जब श्रद्धा ने शादी का दबाव बनाया तो आफताब ने उसकी हत्या कर दी।

शादी को लेकर चल रही थी लड़ाई

आरोपी ने पुलिस को बताया कि 18 मई को दोनों के बीच शादी को लेकर लड़ाई हई. जिसके बाद उसने फ्लैट के अंदर ही पहले धारदार हथियार से श्रद्धा की हत्या की। फिर आरी से पहले उसके हाथ के तीन टुकड़े किए। इसके बाद पैर के भी तीन टुकड़े किए। ऐसा करके पूरी बॉडी के कुल 20 टुकड़े किए।

इसके बाद आरोपी रोज पिट्ठू बैग में शव के कुछ टुकड़ों को लेकर शहर और जंगल के अलग-अलग इलाकों में जाता और ठिकाने लगा देता। उसे लगा था कि कोई भी इस तरह उसे पकड़ नहीं पाएगा। आरोपी ने पुलिस को उन ठिकानों के बारे में भी बताया जहां उसने श्रद्धा को मारने के बाद बॉडी पार्ट्स फेंके थे। पुलिस ने एक दो जगहों से कुछ हड्डियां बरामद कर ली हैं. बाकी ठिकानों पर भी पुलिस पहुंच कर जांच कर रही है।