Breaking News

शिवराज सिंह ने भी स्वीकारा मेरे भाई का कर्ज माफ हुआ है – सीएम कमलनाथ | Shivraj Singh Approved my brother’s debt is forgiven – CM Kamal Nath

Posted on: 11 May 2019 20:09 by bharat prajapat
शिवराज सिंह ने भी स्वीकारा मेरे भाई का कर्ज माफ हुआ है – सीएम कमलनाथ | Shivraj Singh Approved my brother’s debt is forgiven – CM Kamal Nath

भोपाल – मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव की सियासी सरगर्मी यों के बीच किसान कर्ज माफी के मुद्दे ने तूल पकड़ लिया है। जहां एक तरफ कांग्रेस प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान के भाई का नाम किसान कर्जमाफी की सूची में शामिल होने की बात कह रही हैं। वही शिवराज सिंह चैहान इसे सिरे से नकारते रहे हैं।

जिसके बाद अब कमलनाथ ने इसको मामले को लेकर एक ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि ‘शिवराज सिंह ने भी स्वीकार किया है कि हां मेरे भाई का कर्ज माफ हुआ है’।

कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा कि ‘ भले सारे प्रमाण हमने सामने ला दिये है लेकिन असली मुद्दा कर्ज माफी ही है , किसानो के खाते में राशि आना है। जो हमने किया है। 21 लाख किसानो के खाते में राशि हमने पहुँचायी है। जिसे खुद शिवराज सिंह ने भी स्वीकारा है कि हाँ मेरे भाई का कर्ज माफ हुआ है।’

गौरतलब है कि कमलनाथ ने मुख्यमंत्री बनते ही प्रदेश के किसानों का 2 लाख रुपये तक का कर्ज माफ किए जाने की फाइल पर हस्ताक्षर किए थे। साथ ही किसानों से आवेदन भी बुलवाए गए थे। हालांकि किसान कर्ज माफी को लेकर भाजपा कांग्रेस पर वादाखिलाफी का आरोप लगाती रही है।

गौरतलब है कि बुधवार को ग्वालियर में सभा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा किसान कर्ज माफी वाली सूची में शिवराज सिंह चैहान के भाई रोहित और उनके चाचा के लड़के का नाम शामिल होने का दावा किए जाने के बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया था।

जिसके बाद शिवराज सिंह चैहान ने कमलनाथ सरकार पर तंज कसते हुए कहा था कि ‘मेरे भाई रोहित सिंह ने कर्ज माफी का आवेदन ही नहीं किया था फिर भी कर्ज माफ कर दिया गया। यह साजिश है। मुख्यमंत्री कमलनाथ बताएं कि उनके (चैहान) परिवार पर इतनी मेहरबानी क्यों है।’

must read : लोकसभा चुनाव : छठे चरण का मतदान कल, कई दिग्गजों की किस्मत होगी EVM में कैद

वहीँ पूर्व मुख्यमंत्री के भाई रोहित सिंह ने भी कर्ज माफी का आवेदन देने से मना कर दिया था। जिसके बाद सागर के बिना कस्बे की सभा में राहुल गांधी और मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रोहित सिंह चैहान और उनके चाचा के लड़के की कर्ज माफी के आवेदन की प्रति को सार्वजनिक तौर पर प्रदर्शित किया था। लेकिन रोहित ने इस आवेदन को भी फर्जी बताया था। उनका कहना था कि वह हिंदी में हस्ताक्षर नहीं करते। इसके बाद शुक्रवार को कांग्रेस ने रोहित सिंह का सर्व धर्म गृह निर्माण सहकारी समिति भोपाल की सदस्यता के लिए किए गए आवेदन को भी सार्वजनिक किया था जिसमें रोहित के हिंदी में हस्ताक्षर थे।

आरटीआई खुलासा : प्रधानमंत्री और मंत्रिपरिषद की यात्राओं पर खर्च हुए इतने करोड़

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com