Breaking News

तो इसलिए शिव को पसंद हैं सावन का महीना, जानिए इसके महत्व

Posted on: 13 Jul 2019 13:58 by rubi panchal
तो इसलिए शिव को पसंद हैं सावन का महीना, जानिए इसके महत्व

सावन माह में शिव जी की कृपा अपने भक्तों पर बनी रहती हैं। सावन का महीना शिव जी को अत्यंत प्रिय हैं। कहा जाता हैं कि इस माह में लड़कियां शिव जी की पूजा अर्चना करके उन्हें प्रसन्न कर मनचाहा और सुंदर पति की कामना करती हैं। शिव जी इस पूरे महीने अपने भक्तों की हर परेशानियों का निवारण करते हैं। साथ ही इस पावन माह में जो भी भक्त शिव को प्रसन्न कर लेता हैं उस पर जीवन भर शिव की कृपा रहती हैं लेकिन सिर्फ सावन के माह में ही शिव अपने भक्तों से इतना प्रसन्न क्यों रहते हैं आखिर इस महीने में ऐसा भी क्या हैं जो शिव को यह माह सबसे ज्यादा प्रिय हैं।

इस कारण शिव को प्रिय हैं यह सावन का पावन महीना

1- विष्णु का कार्यभार संभालते हैं शिव

हिन्दू मान्यताओं के अनुसार सावन के प्रारंभ होने से ठीक पहले विष्णु जी देवशयनी एकादशी पर योग निद्रा में चले जाते हैं। जहां वे सृष्टि के पालन की सारी जिम्मेदारियों से मुक्त होकर पाताललोक में विश्राम करने के लिए चले जाते हैं। इसलिए सावन में सृष्ठि के पालन की सारी जिम्मेदारियां भगवान शिव पर रहती हैं। सावन माह में भगवान शिव जाग्रत हो जाते हैं। इसलिए यह महीना शिव के लिए बेहद खास होता है। इसीलिए इस माह में उनकी पूजा का महत्व भी बढ़ जाता है।

2- पार्वती मां ने किया था तप

सावन महीने में माता पार्वती के द्वारा तप की कथा भी काफी प्रचलित हैं। पार्वती ने सावन के महीने में ही कठोर तप शिव जी को विवाह के लिए प्रसन्न किया था। तभी से ही ये महीना शिव जी का प्रिय हो गया। मान्यता हैं कि सावन से प्रारंभ कर सोलह सोमवार के व्रत करने से कन्याओं को सुंदर पति मिलते हैं तथा पुरुषों को सुंदर पत्नियां मिलती हैं।

3- समुद्र मंथन से भी जुड़ी हैं सावन की कथा

पुराणों के अनुसार सावन में ही भगवान शिव ने समुद्र मंथन से निकले विष को पीकर सृष्टि की रक्षा की थी। इस लिए भी यह महीना बेहद खास माना जाता हैं। माना जाता हैं। इस महीने में सबसे ज्यादा वर्षा होती है और अधिक वर्षा होने से विष से तप्त हुई शिवजी की देह को ठंडक प्राप्त होती है। इसलिए शिव जी इस माह मे ज्यादा प्रसन्न रहते हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com