Breaking News

रिश्ते ही ज़मीन नम रखते हैं …

Posted on: 03 Mar 2019 14:53 by Ravindra Singh Rana
रिश्ते ही ज़मीन नम रखते हैं …

आयशा खत्री पटेल

28 फरवरी जेनिफर कपूर का जन्मदिन होता है।1984 में उनकी मृत्यु हुई। 1985 से उनके हर जन्मदिन पर पृथ्वी थियेटर में ज़ाकिर हुसैन जी का तबला गूँजता है।शशि कपूर ने उनसे वादा लिया था कि वह उनकी पत्नी के जन्मदिन पर कार्यक्रम के लिये वहाँ आयेंगें। अब शशि जी भी नहीं हैं पर रिश्तों की कद्र करने वाले ज़ाकिर साहब अब भी इस दिन यहाँ आते हैं।पिछले 35 साल से 28 फरवरी को वह पृथ्वी थियेटर पहुँच जाते हैं। है कोई मिसाल….

मुझे यहाँ पिछले साल आयशा लेकर आई।इस बार 35वाँ कार्यक्रम दो दिन रहा।28 फरवरी और 1 मार्च। कल रात जब ज़ाकिर हुसैन जी के साथ वायलिन पर गणेश और कुमरेश राजगोपालन,ड्रम पर रंजीत बारोट और तोफ़िक हुसैन के साथ जुगलबंदी हुई तो लगा कितनी सखियाँ बैठ कर बतिया रहीं हैं। शब्द ही नहीं पर हर तार और ढोल भी कितना और क्या खूब बोलते हैं!

कल जैसे ही पृथ्वी में आयशा मिली तो एक बैग हाथ में रख कर कहा डेकोपेज (decoupage) सीख रही हूँ और पहली वस्तु ये…,खोल कर देखा तो ‘सरसों से अमलतास’ की चित्रकारी वाला खूबसूरत (मेरे लिए अनमोल) बाॅक्स मेरे हाथ में! आयशा भी सुप्रीम कोर्ट में थी पर हम वहाँ नहीं मिले।आठ साल पहले आॅल्का (OLCA) के समय मिले।दोनों की वही कहानी थी।परिवार- बच्चों के बाद अपनी तरफ़ लौटने का समय।
पृथ्वी थियेटर में आज रिश्तों का जश्न मना।खूब खूब प्यार आयशा।

 

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com