शंकराचार्य स्वरूपानंद बोले, साध्वी-साधु होती है, तो नाम के आगे गिरी, पुरी, सागर लगता है, ठाकुर नहीं | Shankaracharya Swaroopanand statement on Sadhvi Pragya

0
41
Shankaracharya Swaroopanand Saraswati

जगत गुरु शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा सिंह के ठाकुर लिखने पर चुटकी ली है। स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि जो साध्वी साधु होती हैं, उनके नाम के आगे गिरी, पुरी, सागर लगता है ठाकुर नहीं। स्वरूपानंद सरस्वती ने यह कमेंट उस समय किया जब कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह पर्चा भरने से पहले उनके पास आशीर्वाद लेने पहुंचे थे। स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि संतों को अमर्यादित शब्द या भाषा का इस्तेमाल करना शोभा नहीं देता।

pragya thakur

उन्होंने प्रज्ञा सिंह द्वारा दिग्विजय सिंह के खिलाफ की गई टिप्पणियों को संत की मर्यादाओं के खिलाफ बताया। जगत गुरु ने कहा कि अगर महिषासुर मर्दिनी है तो दिग्विजय सिंह को भी श्राप देकर पर्चा भरने से पहले ही मार देना चाहिए। उन्होंने चुनाव के दौरान महिषासुर जैसी भाषा को अलोकतांत्रित बताया।
Read More : लोकसभा चुनाव – दिग्विजय सिंह ने भोपाल से और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गुना से दाखिल किया नामांकन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here