जबलपुर। मध्यप्रदेश के जबलपुर में इन दिनों खेल महोत्सव चल रहा है। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया यूं तो राजनीतिक कार्यक्रमों और बातों से दूर रहे, लेकिन महाकौशल अंचल के उनके समर्थकों में गजब का उत्साह देखने को मिला। शुक्रवार को सिंधिया जबलपुर में सांसद खेल महोत्सव में शामिल होने के लिए पहुंचे। यहां उनका पुराना अंदाज देखने को मिला।

ज्योतिरादित्य सिंधिया जींस-शर्ट पहने हुए थे। उन्होंने यहां मैदान में न सिर्फ दौड़ लगाई, बल्कि तीरंदाजी, गिल्ली डंडा, और कंचे भी खेलते नजर आए। जींस और शर्ट में नजर आए सिंधिया ने कंचे खेले, गिल्ली-डंडे पर हाथ आजमाया, साथ ही तीरंदाजी भी की। बीजेपी सांसद राकेश सिंह ने उनसे कहा- ये कंचे हैं, तो सिंधिया ने तपाक से जवाब दिया कि मैं जानता हूं, बचपन में हमने खूब खेला है।

Also Read – गोल्ड की कीमतों में हुआ बड़ा बदलाव, अब इतना हो गया 24 कैरेट सोने का दाम

यहां सिंधिया ने एक नहीं कई बार दौड़ लगाई, मैदान के एक छोर से दूसरे छोर जाना हो, खिलाड़ियों से मिलना या अपनी कार में सवार होना हर जगह जाने के लिए सिंधिया यहां तेज दौड़ लगाते नज़र आए। सिंधिया ने परंपरागत देसी खेल का भरपूर आनंद लिया.,वह खेलते रहे और समर्थक तालियां बजाते रहे।

सिंधिया ने कहा कि खेल महोत्सव में युवाओं में ऊर्जा का संचार होता है। इस कारण यहां आकर मैं भी ऊर्जा से भर गया। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजनों से सकारात्मक सोच पैदा होती है। बता दे कि सांसद खेल महोत्सव के दूसरे दिन सिंधिया मुख्य आतिथि के तौर पर शामिल हुए। यहां उन्होंने पिट्टू, गिल्ली – डंडा, कंचा, भौंरा, चीटी – धप्प, रस्सी कूद, गुलेल और लाठी जैसे पारंपरिक खेलों के बारे में जानकारी ली और कई खेल उन्होंने खुद खेलकर भी देखें।