इंदौर की माटी की खुशबू ही निराली है

0
9

इंदौर, (हेमा लोवंशी): मां अहिल्या की नगरी इंदौर शहर, जहां का खाना , माटी की खुशबू और लोगों का प्यार सभी को अपना बना लेता है ऐसे में फिर कला से भी अछूता नहीं है। इंदौर की बात ही निराली है यहां जो एक बार आता है यही का होकर रह जाता है।

1देर रात तक आते रहे लोग
कला का अद्भुत संगम लोगों का प्यार ,उत्साह ,उमंग सभी कुछ देखने को मिला लोक संस्कृति मंच द्वारा आयोजित मालवा उत्सव में। लालबाग परिसर में आयोजित इस उत्सव में एक और जहां कलाकारों की उम्दा प्रस्तुतियां थी, वहीं दर्शकों का उत्साह भी कम नहीं था। देर रात तक दर्शक लालबाग परिसर में थे।

2

सेल्फी तो बनती है
जी हां इतना बड़ा आयोजन हो और सेल्फी ना हो , ऐसा हो ही नहीं सकता लालबाग परिसर के हर कोने में फिर चाहे बात हम एंट्री गेट की करें या बड़े-बड़े झूलों की या बेहद खूबसूरत बने स्टेज की हर जगह लोग अपने परिवार के साथ सेल्फी लेते नजर आएं। वहीं सेल्फी जोन में चार्ली चैपलिन के गेट अप में आए कलाकार के साथ सेल्फी लेने के लिए तो लोगों की लंबी लाइन ही लग गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here