Breaking News

गांधी की जगह नोटों पर लगे सावरकर की तस्वीर, हिंदूसभा की प्रधानमंत्री मोदी से मांग

Posted on: 29 May 2018 13:07 by Lokandra sharma
गांधी की जगह नोटों पर लगे सावरकर की तस्वीर, हिंदूसभा की प्रधानमंत्री मोदी से मांग

स्वतंत्रता सेनानी विनायक दामोदर सावरकर की जन्मतिथि है. उनका जन्म 28 मई 1883 में हुआ था. उन्होंने हिन्दुत्ववादी कई संगठनों की स्थापना की जिसके बाद उन्हें वीर सावरकर भी कहा जाने लगा. बता दें सत्ता पर आसीन भारतीय जनता पार्टी कई मुद्दों पर सावरकर की हिन्दुत्ववादी विचार धरा पर राजनीति करती है.

वीर सावरकर की जयंती के उपलक्ष्य पर हिन्दू महासभा ने केंद्र की मोदी सरकार से इंडियन करेंसी पर गांधी की जगह सावरकर की तस्वीर लगाने की मांग की है. इसके साथ-साथ हिन्दू महासभा के प्रमुख चक्रपाणी महाराज ने सावरकर को भारत रत्न देने की भी मांग की है. बता दें इससे पहले भी हिन्दू महासभा की ओर से यह मांग उठाई जा चुकी है. किन्तु इस बार केंद्र की मोदी सरकार से ख़ास अनुरोध किया है.

हिन्दू महासभा का कहना है कि वीर सावरकर ने ही पहली बार हिंदुत्व शब्द का प्रयोग किया था. 1923 में अपने प्रसिद्ध वैचारिक ग्रंथ “हिंदुत्व: कौन हिंदू है?” लिखा। इसमें उन्होंने हिंदुत्व का जिक्र किया. इसके साथ ही उन्होंने आजादी की लड़ाई में भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया, इसलिए उन्हें सम्मान देते हुए भारतीय करेंसी पर उनकी तस्वीर लगानी चाहिए.

कौन थे वीर सावरकर

हमेशा विवादों में घिरे रहने वाले सावरकर कट्टर हिन्दुत्ववादी थे किन्तु जाती व्यवस्था के वे कड़े आलोचक थे. गाय की पूजा को नकारते हुए उन्होंने गौ पूजा को अंधविश्वास बताया था. कहा यह भी जाता है कि सावरकर महात्मा गांधी के कड़े आलोचकों में से एक थे, उन्होंने गांधी के भारत छोड़ो आंदोलन का भी विरोध किया था. इसके पीछे कहा जाता है कि सावरकर अंग्रेजों का विश्वास जितना चाहते थे. और उनकी मदद से हिंदू प्रांतों का सैन्यकरण करना चाहते थे.

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com