मोदी सरकार को संत की चेतावनी, अब नहीं बना राम मंदिर तो….

0
21
sant

नई दिल्ली: केंद्र की सत्ता में एक बार फिर मोदी सरकार की वापसी के बाद राम मंदिर निर्माण का मुद्दा उठने लगा है। राम मंदिर को लेकर संतों की फिर मांग उठने लगी है। हाल ही में संतों ने मोदी सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि राम मंदिर नहीं बना तो वे अपने प्राण देने से भी पीछे नहीं हटेंगे।

तपस्वी छावनी में संतों ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए यज्ञ किया। इस यज्ञ में मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास ने भी हिस्सा लिया। यज्ञ के आयोजक स्वामी परमहंस दास ने मोदी सरकार को चेतावनी दी है कि यदि इस कार्यकाल में सरकार ने राम मंदिर नहीं बनाया तो वह पीएम कार्यालय के सामने आत्मदाह कर लेंगे।

संतों की होगी बैठक

राम मंदिर को लेकर संत समाज एक बार फिर आन्दोलन करने को मजबूर हो रहे है। 3 जून को छोटी छावनी में राम मंदिर को लेकर संतों, विहिप व संघ की संयुक्त बैठक प्रस्तावित है। इससे पहले ही तपस्वी छावनी के श्री महंत व राम मंदिर के लिए आमरण अनशन कर चुके स्वामी परमहंस दास ने पीएम मोदी से मांग की है कि सोमनाथ की तर्ज पर अयोध्या में भी राम मंदिर का निर्माण कराया जाए।

गौरतलब है कि इससे पहले भी राम मंदिर निर्माण को लेकर संत समाज सड़क पर उतरा है। चुनाव से पहले इस मुद्दे को लेकर संत समाज ने मोदी सरकार का विरोध भी किया था। इतना ही नहीं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे खुद अयोध्या पहुंचे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here