Breaking News

बुर्कानशीं पार्षद ने बदल दी खजराना की फिजां….

Posted on: 15 May 2018 13:25 by hemlata lovanshi
बुर्कानशीं पार्षद ने बदल दी खजराना की फिजां….

इंदौर: खजराना क्षेत्र न सिर्फ विकास में पिछड़ा हुआ था बल्कि यहां के रहवासी भी कई समस्याओं से जूझ रहे थे, इनकी न तो किसी राजनीतिक दल ने परवाह की, न किसी जनप्रतिनिधि ने। ऐसे में आठ साल पहले पहली बार घर से बाहर निकली एक बुर्कानशीं महिला ने मैदान संभाला और क्षेत्र से नगर निगम का चुनाव लड़ा। हालांकि कांग्रेसी विचारधारा की रुबीना इकबाल खान को जब पार्टी ने मौका नहीं दिया तो निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरी और आज जन-जन में लोकप्रिय हुई। उन्होंने काम और अपने बुते पर न सिर्फ अपने क्षेत्र बल्कि शहर में भी खास मुकाम हांसिल किया। आइये आपको आज घमासान डॉटकॉम मिलवा रहा है निर्दलीय पार्षद रुबीना इकबाल खान से…

rubina 4

बुर्के के बाहर की दुनिया नही पता थी
क्षेत्र क्रमांक 5 के वार्ड 39 की पार्षद रुबीना इकबाल खान ने बताया कि मैं भी हाउस वाईफ ही थी। बुर्के के बाहर की दुनिया नही पता थी। खुदा की रेहमत हुई और हम खजराना आ गए। लक ही था कि चुनाव आते ही महिला वार्ड हो गया निर्दलीय चुनाव लड़ कर ​जीत हासिल की। चुनाव के बाद ही मुझे अपनी प्रतिभा पता चली कि मैं भी अधिकारों के लिए अवाज उठा सकती हूं। रुबीना जी की पारिवारिक पृष्ठभूमि तो राजनीतिक नहीं रही, लेकिन शादी के बाद उन्हें पति इकबाल खान ने काफी सपोर्ट किया। इकबाल जी ने कांग्रेस के टिकट पर विधानसभा चुनाव भी लड़ा।

rubina 3

कांग्रेस ने 6 साल के लिए कर दिया निष्काषित

रुबीना इकबाल खान ने बताया कि राजनीति का सफर काफी मुश्किलों भरा रहा। शुरूआत में कांग्रेस पार्टी से कंधे से कंधा मिलाकर काम किया लेकिन जब पार्टी से पार्षद के टिकट की बारी आई तो दोनों ही बार मुझे शोभा ओझा और अरुण यादव ने दरकिनार कर अपने चहेतों को टिकट दिलावा दिया। मैंने निर्दलीय चुनाव लड़ दोनों पार्टी कांग्रेस और बीजेपी के उम्मीदवारों को हरा कर जीत हासिल की। कांग्रेस पार्टी से मुझे 6 साल के लिए निष्काषित कर दिया।

rubina 9

बन रही है 35 लाख लीटर पानी टंकी
खजराना क्षेत्र में कई काम किए जिसमें ड्रेनेज की लाइन, साफ पानी, स्कूल, सड़क, सुलभ शौचालय आदि का निर्माण हुआ। खजराना क्षेत्र में पानी की सबसे बड़ी समस्या रहती है। तीन करोड़ की लागत से बन रही हारुन कॉलोनी में 35 लाख लीटर वाली पानी की टंकी लगभग तैयार हो चुकी। जल्द ही पानी की समस्या भी खत्म हो जाएगी। खजराना की सड़के भी छोटी है जिसके कारण ट्रॉफिक समस्या होती है। 100 फुट का रोड़ बन जाएगा तो कई समस्याएं खत्म हो जाएंगी।

rubina 8

विधायक बनने की चाहत 
राजनीति में मुझे भी काफी समय हो गया है। सपने तो मेरे भी हैं, राजनीति में आगे जाने के । वैसे तो पार्षद बनना गौरव की बात है क्योंकि पार्षद ही लोगों से सीधे जुड़ते हैं। लोगों के सुख-दुख में साथ खड़े होते हैं। हर घर में पैठ होती है। वैसे तो विधायक बनने की ख्वाहिश है मेरी। देखते है खुदा की रहमत कब होती है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com