Breaking News

कोटेश्वर मंदिर की स्थापना रावण ने की थी

Posted on: 07 Feb 2019 17:00 by mangleshwar singh
कोटेश्वर मंदिर की स्थापना रावण ने की थी

कोटेश्वर महादेव का मंदिर बहुत ही चमत्कारी और पूरी दुनिया में विख्यात है। ये मंदिर अहमदाबाद में अरब सागर के किनारे बना हुआ है। इस मंदिर का इतिहास सभी मंदिरों से थोड़ा अलग और अनोखा है। ऐसा कहा जाता है कि इस मंदिर कि स्थापना रावण ने की। प्राचीन काल से यहां पर यह विख्यात है कि रावण ने अपनी तपस्या से भगवान शिव को खुश किया और आशीर्वाद के रूप में भगवान ने रावण को शिवलिंग दिया और शर्त रखी कि इस शिवलिंग को तुम कहीं भी बीच में नहीं रखोगे अगर रख दिया, तो शिवलिंग को वहीं स्थापित करना होगा।

इसके बाद रावण वहां से शिवलिंग लेकर श्रीलंका चल पड़ा, लेकिन आधे रास्ते आने के बाद उन्होंने देखा कि एक गाय गड्ढे में फंसी है, उसे देखकर रावण ने शिवलिंग को वहीी सागर किनारे रख दिया और और गाय को निकालने लगा। गाय को निकालने के बाद रावण ने देखा कि शिवलिंग के हजार रूप हो गये हैं और वो अपना असली शिवलिंग पहचान नहीं पाया और मजबूरी में उन्हें शिवलिंग की स्थापना यहीं करनी पड़ी। ये मंदिर बहुत ही प्रसिद्ध मंदिर है। यहां दुनियाभर से लोग दर्शन करने के लिए आते है और यहां के अद्भुत नजारे का आनंद लेते है।यहां एक तरफ मंदिर है ओर एक तरफ अरब सागर, जो खूबसूरती की एक नायाब तस्वीर है।

Read More :-

जाने वैष्णों देवी के गुफा के चमत्कार

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com