Breaking News

रामायण-महाभारत हैं हिन्दुओ की हिंसा का प्रतीक- सीताराम येचुरी

Posted on: 03 May 2019 16:36 by Parikshit Yadav
रामायण-महाभारत हैं हिन्दुओ की हिंसा का प्रतीक- सीताराम येचुरी

नई दिल्ली | सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी का कहना है कि रामायण और महाभारत जैसे ग्रंथों से सिद्ध होता है कि हिंदू भी हिंसक हो सकते हैं। उन्होंने भोपाल में एक समारोह में कहा कि रामायण और महाभारत हिंसक घटनाओं के उदाहरणों से भरे पड़े हैं। आरएसएस प्रचारक एक तरफ इन ग्रंथों का उदाहरण देते हैं और फिर कहते हैं कि हिंदू हिंसक नहीं हो सकते। इस बात के पीछे आखिर क्या लॉजिक है कि धर्म-विशेष के लोग ही हिंसा करते हैं और हिंदू नहीं?येचुरी ने कहा कि आरएसएस अपनी प्राइवेट आर्मी बना रहा है, लेकिन गठबंधन पीएम नरेंद्र मोदी को सत्ता से हटा देगा। इस मौके पर भोपाल से कांग्रेस के लोकसभा उम्मीदवार दिग्विजय सिंह भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि यह सामान्य लोकसभा चुनाव नहीं है, बल्कि संविधान को बचाने की लड़ाई है।
दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया कि भाजपा ने संविधान का तमाशा बना कर रख दिया है। संविधान में भाजपा का कोई विश्वास नहीं है। यह व्यक्तियों के बीच नहीं, बल्कि विचारधारा की लड़ाई है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com