Breaking News

चुनावी मैदान में भाग्य आजमा रही है राजस्थान की ये शाही महिलाएं

Posted on: 10 Nov 2018 12:58 by shilpa
चुनावी मैदान में भाग्य आजमा रही है राजस्थान की ये शाही महिलाएं

भाजपा को सत्ता से बाहर करने के लिए कांग्रेस के नेता राजस्थान का नियमित दौरा कर पार्टी के पक्ष में हवा बनाने के प्रयास में लगे हैं। कुछ क्षेत्रीय राजनीतिक दल भी भाजपा को घेरने मे जुटे हैं। ऐसे में इन शाही महिलाओं को चुनाव के मैदान में उतारा है। आइए चुनाव में भाग्य आजमा रही इन राज परिवार से जुड़ी महिलाओं के बारे में जानते है-

वसुंधरा राजे : इनका का जन्म 8 मार्च 1953 को मुंबई में हुआ था। ग्वालियर के पूर्व महाराज राजे जीवाजीराव सिंधिया और भाजपा की वरिष्ठ नेता स्व. विजया राजे सिंधिया की पुत्री हैं। तमिलनाडु से प्रारंभिक पढ़ाई और मुंबई से स्नातक की पढ़ाई पूरी की। धौलपुर के राज परिवार के हेमंतसिंह से वसुंधरा राजे का विवाह 17 नवंबर 1972 को हुआ। वो राजस्थान के झालरापाटन से 8वीं, 12वीं एवं 13वीं विधानसभा की सदस्य हैं।

मीनाक्षी चंद्रावत : ये हरीगढ़ के पूर्व महाराजा धनसिंह चंद्रावत की पुत्री हैं। उनके परिवार में महाराजा विवेकसिंह, महाराजा योगेन्द्रसिंह और महाराजा देवेन्द्र सिंह हैं, जो पूर्व में हरीगढ़ राज परिवार से थे। झालरा पाटन से कांग्रेस की प्रत्याशी और दो बार विधानसभा चुनाव हार चुकीं है झालरा पाटन में मीनाक्षी का मुकाबला भाजपा की वसुंधरा राजे से है।

दीया कुमारी : जयपुर के महाराज सवाई भवानीसिंह व महारानी पद्मिनी देवी की इकलौती पुत्री राजकुमारी दीया कुमारी जो सवाई माधोपुर से भाजपा की प्रत्याशी है। इनका जन्म 30 जनवरी 1971 को हुआ। इन्होने जयपुर,दिल्ली और लन्दन से अपनी पढाई पूरी की और अभी कुछ समय पूर्व नरेन्द्र मोदी, राजनाथसिंह और वसुंधरा राजे की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। उनकी शादी नरेन्द्रसिंह से हुई और इनके दो पुत्र एवं एक पुत्री हैं।

कृष्णेन्द्र कौर दीपा : भरतपुर के राजपरिवार के राजा मानसिंह की पुत्री रखने वालीं दीपा कृषि व्यवसाय से जुड़ी हैं। इन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई महारानी गायत्री देवी गर्ल्स पब्लिक स्कूल से की है। ये राजस्थान के भरतपुर संसदीय क्षेत्र से सांसद रह चुकीं है और नदबई विधानसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार हैं। दीपा नदबाई विधानसभा सीट से 8वीं, 9वीं, 12वीं और 13वीं राजस्थान विधानसभा की सदस्य रही हैं। इनका विवाह कुंवर विजयसिंह सिरोही के साथ 26 अप्रैल 1982 को हुआ। इनका एक पुत्र और एक पुत्री है।

सिद्धी कुमारी : बीकानेर के पूर्व राजा नरेन्द्रसिंह बहादुर के घर इनका जन्म 1973 में हुआ था। इनके दादा डॉ. करणीसिंह बहादुर बीकानेर के महाराज थे। बीकानेर पूर्व भाजपा की उम्मीदवार सिद्धीकुमार वर्तमान में भी भाजपा से ही विधायक हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com