Breaking News

अब कौन और कैसा हिंदू

Posted on: 01 Dec 2018 17:49 by Surbhi Bhawsar
अब कौन और कैसा हिंदू

मुकेश तिवारी
([email protected])

सत्ता के सेमीफाइनल की जंग में भगवान हनुमान की जाति बताए जाने से उठा बवाल अभी थमा ही नहीं था कि अब कौन और कैसा हिंदू का मुद्दा गरमा गया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उदयपुर में यह सवाल उठाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किस तरह के हिंदू हैं? गीता के सार का सहारा लेकर राहुल ने यहां तक कह डाला कि मोदी हिंदुत्व की नींव को ही नहीं समझते। अब राहुल के ऐसा कहने पर भारतीय जनता पार्टी को बुरा लगना स्वाभाविक ही था। बुरा लगा और खूब बुरा लगा इसलिए पलटवार हुआ। पलटवार करने की जिम्मेदारी देश के कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने संभाली। उन्होंने राहुल गांधी को दिखावे का हिंदू बता दिया। उन्होंने यह भी जोड़ा कि राहुल गांधी ने चुनाव के लिए हिंदुत्व का चोला ओढा है।

पांच राज्यों के चुनाव प्रचार अभियान की जब शुरुआत हुई थी तभी हिंदू और हिंदुत्व की नई परिभाषा देने की कोशिश की गई थी। इसके बाद दो तरह के हिंदू और हिंदुत्व की बात रखी थी। चुनाव प्रचार अभियान आगे बढ़ा तो राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर मुड़ा। इसे लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर खूब चला। नेताओं ने भाषा की मर्यादा को खोकर ना केवल एक- दूसरे पर बल्कि उनके परिजन और बूढ़े माता-पिता तक पर छींटाकशी की। जाति और गोत्र बताने का सिलसिला भी चला। भगवान हनुमान किस जाति के थे यह बताने की भी कोशिश हुई। अब चुनाव प्रचार का मुद्दा कौन और कैसा हिंदू हो गया है। आज इस पर बयानों की शुरुआत हुई है और कई बयान इस पर आने की संभावना प्रबल है क्योंकि राहुल ने मोदी पर शब्द बाण छोड़ा है और भाजपा ने इसका जवाब देना शुरू कर दिया है। हो सकता है राजस्थान में चुनाव प्रचार के आखरी दौर में कौन और कैसा हिंदू पर हो रही यह बयानबाजी और अधिक भावनात्मक रूप ले ले। नेता तो चाहते ही हैं कि जनता के काम के जो मुद्दे हैं उनपर कम से कम बात हो और यहां वहां की बातों के बीच ही मतदान की बेला आ जाए। जनता भी अब पहले से ज्यादा जानती और समझती भी है यह नेता भूल जाते हैं।

लेखक घमासान डॉट कॉम के संपादक है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com