राजस्थान कांग्रेस में दरार, सीएम गहलोत के इस्तीफे की उठी मांग

0
10

जयपुर : लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद से ही कांग्रेस में उठपटक जारी है। विधानसभा चुनाव में मिली जीत के बाद कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में तगड़ा झटका लगा था। यहां तक की सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत भी अपनी सीट नहीं बचा पाए थे। जिसके बाद अब पार्टी में दरार पैदा हो गई है और पार्टी के ही विधायक ने सीएम गहलोत से इस्तीफे की मांग की है। साथ ही सचिन पायलट को राजस्थान की कमान सौंपे जाने की मांग भी जोर पकड़ रही है। जिसके बाद अब पार्टी में दरार पैदा हो गई है और पार्टी के ही विधायक ने सीएम गहलोत से इस्तीफे की मांग की है। साथ ही सचिन पायलट को राजस्थान की कमान सौंपे जाने की मांग भी जोर पकड़ रही है।

इस विधायक ने की इस्तीफे की मांग-

बता दे कि टोडाभीम से कांग्रेसी विधायक बी आर मीणा ने सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की है। मीणा का कहना है कि राज्य का मुख्यमंत्री सचिन पायलट को होना चाहिए था युवा चेहरो को दरकिनार किए जाने के कारण ही लोकसभा चुनाव में पार्टी को जनसमर्थन नहीं मिला है।

मीणा ने कांग्रेस की हार का ठिकरा मुख्यमंत्री गहलोत पर फोड़ते हुए कहा कि राज्य में पार्टी की हार के जिम्मेदार सीएम हैं इसके लिए सचिन पायलट को जिम्मेदार ठहराना गलत है।

‘हार के जिम्मेदार पायलट’-

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री गहलोत ने अपने बेटे वैभव गहलोत की हार का के लिए सचिन पायलट को जिम्मेदार ठहराया था। उन्होने कहा था कि ‘सचिन पायलट ने कहा कि वैभव बड़े अंतर से जीत हासिल करेंगे, क्योंकि वहां हमारे 6 विधायक हैं और हमारा चुनाव प्रचार अच्छा है। ऐसे में मुझे लगता है कि उन्हें (पायलट) वैभव के हार की जिम्मेदारी लेनी चाहिए। जोधपुर सीट पर पार्टी की हुई हार का पोस्टमार्टम होगा कि आखिर हम जीत दर्ज क्यों नहीं कर सके।’

राहुल गांधी ने भी जताई थी आपत्ति-

वहीं लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के लिए पार्टी हाई कमान ने भी नाराजगी जाहिर की थी। साथ ही बीते माह हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी के शीर्ष द्वारा अपने बेटों को टिकट दिलाए जाने को लेकर बिना किसी नेता का नाम लिए आपत्ति जताई थी।

मालूम हो इस बार अशोक गहलोत, पी. चिदंबरम और कमलनाथ के बेटों ने लोकसभा चुनाव लड़ा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here