Breaking News

राज ठाकरे का दावा, चुनाव से पहले फिर हो सकता है हमला Raj Thackeray’s claim, may be attacked before elections

Posted on: 10 Mar 2019 12:14 by Pawan Yadav
राज ठाकरे का दावा, चुनाव से पहले फिर हो सकता है हमला  Raj Thackeray’s claim, may be attacked before elections

पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के हमले के बाद सुरक्षा एजेंसियों पर सवाल उठाए जा रहे थे। इसी बीच राजनीतिक पार्टियां पुलवामा हमला को लेकर भी मोदी सरकार पर निशाना साध रही है। इसी बीच महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने दावा किया है कि लोकसभा चुनाव से पहले पुलवामा जैसे और हमले हो सकते हैं।

ठाकरे ने पुलवामा और पठानकोट आतंकवादी हमलों को जोड़ते हुए कहा कि चुनाव में जीत के लिए ‘पुलवामा की तरह की एक और घटना’ निकट भविष्य में हो सकती है। ठाकरे का कहना है कि जब पुलवामा हमले से पहले खुफिया एजेंसियों ने चेताया था, तो उस चेतावनी को नजरअंदाज क्यों किया गया। ठाकरे ने आरोप लगाया कि दिसंबर में, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल बैंकाक में पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार से मिले थे। इस बैठक के बारे में कौन बताएगा।

Read More : राज ठाकरे का दावा, दंगे करा सकती है सरकार

अमित शाह सह पायलट थे क्या

भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में कार्रवाई कर आतंकियों के अड्डे तबाह किए थे। इस कार्रवाई में कितने आतंकी मारे गए, इस पर बार-बार उठ रहे हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का कहना था कि भारतीय वायुसेना ने कार्रवाई कर 250 आतंकियों को मारा था। इस पर ठाकरे ने कहा कि हवाई हमले के दौरान लड़ाकू विमान में अमित शाह क्या सह पायलट थे। ठाकरे ने दावा किया कि भारतीय वायुसेना बालाकोट में निशाना ‘चूक’ गई क्योंकि मोदी सरकार ने उन्हें गलत सूचना दी थी।

 भारतीय वायुसेना ने 250 से ज्यादा आतंकी मारे

भारतीय वायुसेना ने पीओके में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के कैंपों को तबाह कर दिया था। इसके बाद देशभर में जश्न मनाया गया। इसी बीच भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि पुलवामा हमले के बाद सभी ने सोचा था कि इस बार सर्जिकल स्ट्राइक नहीं किया जा सकता, अब क्या होगा? उस समय पीएम मोदी की सरकार ने 13 वें दिन हवाई हमला किया और 250 से अधिक आतंकवादियों को मार गिराया। इससे पहले उरी में हुए आतंकी हमले का बदला थल सेना ने लिया था। सेना ने पाक में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक की थी।

उन्होंने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि भारतीय वायुसेना की कार्रवाई के सुबत मांगना, मतलब पाकिस्तान के चेहरे पर मुस्कान लाने जैसा है। शाह का कहना है कि अगर विपक्षी अगर ये पार्टियां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देश के सशस्त्र बलों द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर हवाई हमले के जरिए हासिल की गई उपलब्धि की प्रशंसा नहीं कर सकतीं तो उन्हें ‘चुप रहना’ चाहिए।

Read More : जानिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राजनीतिक जीवन के रहस्य

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com