Breaking News

रेलवे : यात्री 139 पर काॅल कर बदल सकते हैं बोर्डिंग स्टेशन | Railways: Passenger can change ‘Boarding Station’ by calling 139

Posted on: 16 Apr 2019 11:12 by rubi panchal
रेलवे : यात्री 139 पर काॅल कर बदल सकते  हैं बोर्डिंग स्टेशन | Railways: Passenger can change ‘Boarding Station’ by calling 139

रेलवे अपने यात्रियों को 1 मई से आरक्षण नियमों में बड़ा बदलाव कर रहा है जिसका सीधा फायदा यात्रियों को मिलेगा। रेलवे के अनुसार अब यात्री यात्रा से चार घंटे पहले भी बोर्डिंग स्टेशन में बदलाव कर सकते हैं।

रेलवे के मुताबिक, नया नियम एक मई से लागू होगा। इसमे जिन यात्रियों ने पहले से टिकट बुक कराया है और वह किसी कारण उस स्टेशन से किसी अन्य शहर में हों तो उन्हें चिंता करने की जरूरत नहीं है। यात्री आरक्षण चार्ट बनने के ठीक पहले यानी यात्रा शुरू करने से चार घंटे पहले तक बोर्डिंग स्टेशन में बदलाव करा सकेंगे। बोर्डिंग स्टेशन में बदलाव के लिए यात्री को 139 पर एक कॉल करना होगा। इसके अलावा स्टेशन प्रबंधक, स्टेशन सुपरवाइजर व पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम काउंटर पर एक आवेदन पत्र देना होगा।

रेलवे ने नए नियम के साथ यह भी स्पष्ट किया है कि बोर्डिंग स्टेशन में बदलाव के लिए यात्रियों को कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा। बोर्डिंग स्टेशन में बदलाव के बाद यात्री रिफंड नहीं मांग सकते। यह नियम राजधानी, शताब्दी समेत सभी मेल, एक्सप्रेस ट्रेन में लागू होगा।

Read more : गर्मी से मिलेगी राहत, 17 अप्रैल तक रहेगा धूल भरी आंधी का मौसम

रेलवे के कबाड़ से बने 197.47 करोड़ रुपये

उत्तर पश्चिम रेलवे ने साल 2018-19 में बेकार पड़े कबाड़ को बेचकर 197.47 करोड़ रुपये कमा लिए. पिछले साल 2017-18 के मुकाबले इस साल बेचकर 14.56 प्रतिशत अधिक मुनाफा कमाया है.

रेलवे अधिकारी के मुताबिक, फील्ड यूनिट्स से पुराने कबाड़ को हटाने तथा बेचने के लिए चलाये गये विशेष अभियान के चलते उत्तर पश्चिम रेलवे के चारों मण्डलों तथा निर्माण संगठन ने 40,000 मिट्रिक टन कबाड़ को हटाया जिससे उत्तर पश्चिम रेलवे को इसे बेचकर बड़ा फायेदा हुआ है.

उन्होंने बताया कि इस बार यह कबाड़ पिछले वर्ष की तुलना में 6.87 प्रतिशत अधिक दर पर विक्रय किया गया है. इस अभियान से एक ओर जहां रेलवे परिसर की स्वच्छता में वृद्धि हुई है तो वहीं दूसरी ओर रेलवे की सुरक्षा भी मजबूत हुई है.

Read More:ग्रामीणों ने कहा पहले पुल बनाओ उसके बाद आना वोटों की भीख मांगने | The villagers said, first make the bridge after that begging for votes

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com