Breaking News

राफेल: रक्षामंत्री का कांग्रेस पर हमला, पूछे कई सवाल

Posted on: 04 Jan 2019 15:49 by Surbhi Bhawsar
राफेल: रक्षामंत्री का कांग्रेस पर हमला, पूछे कई सवाल

राफेल मुद्दे को लेकर रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को लोकसभा में कांग्रेस पर तीखा हमला बोला और कहा कि हमारी सरकार हर मुद्दे का जवाब देने को तैयार है। कांग्रेस में सच सुनने की हिम्मत होनी चाहिए. रक्षामंत्री ने कहा कि कांग्रेस मुझे जवाब नहीं देने दे रही, तथ्यों से डर रही है। इस दौरान उन्होंने संसद में स्टैंडिंग कमिटी की रिपोर्ट पढ़ी, अगस्ता डील पर सवाल उठाए और पूछा कि UPA सरकार राफेल क्यों नहीं ला पाई?

रक्षामंत्री ने कहा कि कांग्रेस राफेल डील पर झूठी कहानी बना रही है, कांग्रेस ने देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया है. हमारी सरकार की पहली प्राथमिकता देश की सुरक्षा है।

यूपीए क्यों हासिल नहीं कर पाई राफेल विमान?

राफेल पर चर्चा के दौरान रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने सवाल उठाया कि यूपीए सरकार राफेल विमान क्यों हासिल नहीं कर पाई? हमने रक्षा सौदे की प्रक्रिया को 14 महीने में पूरी किया है। यह प्रक्रिया 10 साल तक नहीं चलती। चीन और पाकिस्तान अपनी ताकत बढ़ा रहे है, हमें अपने पड़ोसी देशों से सीखना चाहिए। सरकार की पहली प्राथमिकता सेना की मजबूती होनी चाहिए, कांग्रेस ने सेना की जरुरत को समझा ही नहीं।

सितंबर 2019 में आएगा पहला विमान

रक्षामंत्री ने संसद में बताया कि पहला राफेल विमान सितंबर 2019 में भारत आ जाएगा। साल 2022 तक सभी राफेल विमान आ जाएंगे। हमारे लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सबसे ऊपर है और इसीलिए हम तय समय से 5 महीने पहले ही सारे विमानों को भारत ला रहे हैं।

कांग्रेस पर दागे सवाल

लोकसभा में रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने क्प्नग्रेस पर ली सवाल दागे। उन्होंने कांग्रेस से पूछा कि बताए क्यों नहीं होने दी राफेल डील? बताए किसके चलते नहीं हुई डील? कांग्रेस ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ क्यों किया? उन्होंने कहा कि RV प्रधानमंत्री का दामाद नहीं बल्कि देश का दमाद है। UPA के समय भी HAL के साथ कोई करार साइन नहीं किया गया था, इसलिए कांग्रेस पार्टी HAL के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाना बंद करे। दसॉल्ट ने HAL में बनने वाले राफेल विमानों की गारंटी लेने से इनकार कर दिया था। कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए सीतारमण ने कहा कि अगर इन्हें वाकई में HAL की चिंता थी 10 साल में उसके लिए क्यों कुछ नहीं किया? अगस्ता की डील HAL के साथ क्यों नहीं की गई, क्योंकि HAL कांग्रेस को सिर्फ हेलिकॉप्टर देती, बाकी कुछ नहीं मिलता।

रक्षामंत्री ने बताया कि हमारी सरकार ने वायुसेना के करीब एक लाख विमानों को ऑर्डर हमारी सरकार ने HAL को दिए। कांग्रेस ने HAL की क्षमता बढ़ाने की कोशिश नहीं की बल्कि सिर्फ उसे रियायत देती रही। कांग्रेस के नेता HAL और अमेठी में गए थे लेकिन क्या कभी उन्होंने वहां की दिक्कतों के बारे में जानने की कोशिश की?

UPA से सस्ती हमारी डील

रक्षा मंत्री ने कहा कि कांग्रेस हमेशा डील के दाम बदलती रही। उन्होंने कहा कि डील के बेसिक दाम हम सार्वजनिक कर चुके हैं लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष अलग-अलग जगह नए-नए दाम बता रहे थे। हमने कांग्रेस से कई गुना सस्ती और बेहतर डील की है। कांग्रेस कीमतों की तुलना सेब और संतरों की तरह कर रही है जबकि इनकी कोई तुलना है ही नहीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बताए कि उसे 526 करोड़ का आंकड़ा कहां से मिला. हमने तो 9 फीसदी कम दाम में राफेल विमान खरीदे हैं।

Read More:सपा सरकार में मंत्री रहे इस नेता के घर आयकर का छापा

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com