जामा मस्जिद से लेकर लखनऊ तक विरोध प्रदर्शन, प्रयागराज-कोलकाता में हुआ पथराव, नूपुर शर्मा को गिरफ्तार करने की हुई मांग

बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के खिलाफ विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है. जामा मस्जिद से लेकर लखनऊ और कोलकाता तक विरोध किया जा रहा है.

पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ की गई विवादित टिप्पणी को लेकर शुरू हुआ विवाद लगातार आग पकड़ रहा है. शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद देश के कई नूपुर शर्मा के खिलाफ विरोध प्रदर्शन देखा जा रहा है. भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस भारी मशक्कत करती दिखाई दे रही है.

दिल्ली की जामा मस्जिद से लेकर कोलकाता और यूपी के कई शहरों में नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है. प्रयागराज में प्रदर्शनकारी पत्थरबाजी करते दिखाई दिए हावड़ा में भी पुलिस पर पथराव किया गया जिसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े.

Must Read- कांग्रेस नेताओं को पसंद नहीं आ रहा आलाकमान का रवैया, अब बुरहानपुर की महिला नेता ने दिया इस्तीफा

यूपी की राजधानी लखनऊ के अलावा प्रयागराज सहारनपुर देवबंद में जमकर हंगामा देखा गया यहां पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है. जामा मस्जिद में प्रदर्शनकारियों ने नूपुर शर्मा नवीन जिंदल पर कार्रवाई की मांग करते हुए जमकर नारेबाजी की. पुलिस का कहना है कि स्थिति काबू में चल रही है. मामले को लेकर जामा मस्जिद के शाही इमाम ने कहा है कि उन्हें विरोध प्रदर्शन के बारे में कोई जानकारी नहीं है मस्जिद की ओर से कोई विरोध प्रदर्शन नहीं बुलाया गया है. उन्होंने बताया है कि कुछ लोगों ने मस्जिद चौक पर नारे लगाना शुरू कर दिए. यह लोग कौन हैं इनका पता पुलिस को ही लगाना होगा.

नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी को लेकर हावड़ा में विरोध प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग पर प्रदर्शनकारियों ने टायर जला दिए. हालांकि मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को वहां से हटाया, तब वह पुलिस पर पथराव करने लगे. स्थिति को संभालने के लिए पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े.

जुमे की नमाज के बाद उत्तर प्रदेश के लखनऊ प्रयागराज सहारनपुर देवबंद में विरोध प्रदर्शन देखा गया देवबंद से पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में यहां पर लोगों को नियंत्रण में लाने के लिए मशक्कत करनी पड़ी. मुरादाबाद के मुगलपुरा क्षेत्र में भी कुछ लोगों ने अचानक ही चौराहे पर आकर प्रदर्शन करना शुरू भारी संख्या में प्रदर्शन करने पहुंचे लोगों को पुलिस ने समझा कर घर भेज दिया है.

बता दें कि बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी कर दी थी जिसके बाद विवाद बढ़ता चला गया और बीजेपी की ओर से नूपुर शर्मा को निलंबित भी कर दिया गया. मामला बढ़ता देख नूपुर शर्मा ने माफी मांगते हुए अपना बयान वापस ले लिया था और कहा था कि मैं अपने शब्द वापस लेती हूं मेरी मंशा किसी को ठेस पहुंचाने की नहीं थी अगर मेरे शब्दों से किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है तो मैं माफी मांगते हुए अपने शब्द वापस लेती हूं.

बढ़ते मामले को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने सख्त रवैया अपनाया है और भड़काऊ टिप्पणी करने के मामले में नूपुर शर्मा असदुद्दीन ओवैसी समेत 32 लोगों पर केस दर्ज किया है.