Breaking News

इंदौर में प्रियंका के रोड शो ने इतिहास रच दिया | Priyanka Gandhi’s Road Show in Indore Created History

Posted on: 13 May 2019 21:52 by bharat prajapat
इंदौर में प्रियंका के रोड शो ने इतिहास रच दिया | Priyanka Gandhi’s Road Show in Indore Created History

इंदौर । मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने बताया कि प्रियंका गांधी जी का रोड शो इंदौर में राजमोहल्ला से भगत सिंह जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर शुरू हुआ और मां अहिल्या की प्रतिमा स्थल राजवाड़ा पर समाप्त हुआ।पूरे मार्ग पर सैकड़ों की संख्या में मंच लगे थे।प्रियंका गांधी जी और प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ जी का ऐतिहासिक स्वागत इंदौर के इस रोड शो के दौरान हुआ।

राजवाड़ा पर समाप्त हुए इस रोड शो के अवसर पर सर्वप्रथम प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उपस्थित हजारों की संख्या में जनता को संबोधित करते हुए कहा कि आज इंदौर की जनता के मिले इस अभूतपूर्व प्रेम के लिए मैं यहां की जनता का ह्रदय से आभारी हूं।आपने आज प्रियंका जी का ऐतिहासिक स्वागत कर मेरा 250 ग्राम खून बढ़ाया है।सुना है कल आपके शहर में मोदी जी आए थे लेकिन अपने 5 सालों का उन्होंने कोई हिसाब नहीं दिया,फिर वही इधर उधर की बातें कर चले गये।

खूब राष्ट्रवाद की बातें की ,अरे जरा यह तो बता दो आप की पार्टी के एक भी नेता ने इस देश की आजादी के लिए कुर्बानी दी है क्या ?किसी ने शहादत दी है क्या ?
कहते हैं कि हमने 5 साल में भारत को सुरक्षित किया तो क्या 5 वर्ष के पहले भारत सुरक्षित नहीं था ?
अरे मोदी जी जब आपने पेंट पजामा पहनना भी नहीं सीखा तब नेहरू जी और इंदिरा जी ने फौज खड़ी की ,सैनिक स्कूल खोलें ,सैनिक अकैडमी बनाई ,नेवी की स्थापना की।

कुछ दिनों पूर्व आपने मामा को विदा किया है अब चौकीदार को विदा करना है।खूब हो गई कलाकारी की बातें ,इधर-उधर ध्यान भटकाने की बातें।अब यह नहीं चलेगा ,अब जनता आपके कामों का जवाब मांग रही है।अब भोपाल से इंदौर नहीं चलेगा ,इंदौर से भोपाल चलेगा।यहां कांग्रेस को आप जिताइये,विकास का एक नया अध्याय हम लिखेंगे।

इस अवसर पर प्रियंका गांधी जी ने संबोधित करते हुए कहा कि मां अहिल्या की पावन नगरी में आपने जो मेरा ऐतिहासिक स्वागत किया है उसके लिए मैं आपका धन्यवाद अर्पित करती हूं।आपकी सिटी को इन्होंने स्मार्ट सिटी बनाने का वादा किया था क्या बनी क्या ? आप स्मार्ट बने कि नहीं ? नहीं बने तो इस चुनाव में स्मार्ट बने,जागरूक बने।हमारे देश में एक बहुत बड़े अर्थशास्त्री प्रधानमंत्री हैं ,जिन्होंने छोटे व्यापारियों-दुकानदारों की नोट बंदी कर कमर तोड़ कर रख दी।कुछ सोचा नहीं 50 लाख नौकरियां घट गई।व्यापार बर्बाद हो गए और उसके बाद जीएसटी ठोक दिया।इस जीएसटी ने व्यापारियो को कहीं का नहीं छोड़ा।इतने बड़े विशेषज्ञ हैं कि कहते हैं कि मौसम खराब है रडार पर नहीं आएंगे। अरे अब रडार पर आप आ चुके हैं। मैं अमेठी गई एक दर्जी की दुकान पर ,उसने बताया कपड़े पर भी टैक्स लग रहा है ,सिलाई पर भी लग रहा है ,धागे पर भी लग रहा है ,कढ़ाई पर भी लग रहा है।ऐसा मन करता है कि काम बंद कर दे।

कल आपके पास इंदौर आए थे खूब बोला पलट कर जनता ने जवाब दिया “बोर हो गए” , प्रियंका जी ने पूछा क्या बोर हो गए हैं ?

हमारे प्रधानमंत्री जी अपने 5 साल पर बात नहीं करते हैं।बात करते हैं तो इंदिरा जी ,नेहरू जी ,राजीव जी की बात करते हैं।अरे जनता आपके 5 साल पर बात करना चाहती है ,आप के रोजगार के वादे पर बात करना चाहती है ,आपके किसानों की आय को दोगुना करने के वादे पर बात करना चाहती है ,आपके 15 लाख पर बात करना चाहती है।

हमारे प्रधानमंत्री जी ने कभी अमेरिका जाकर ओबामा जी को गले लगाया ,कभी जापान जाकर ढोल बजाया ,कभी चीन जाकर वहाँ के प्रधानमंत्री को गले लगाया,झूला झुलाया ,पाकिस्तान जाकर बिरयानी खाई लेकिन देश में किसी आम आदमी को गले नहीं लगाया।ना किसान को गले लगाया ना किसी आम आदमी को लगाया।

मैं बार-बार कहती थी कि प्रधानमंत्री जी ने कभी किसी देशवासी को गले नहीं लगाया लेकिन एक दिन मैंने अखबारों में देखा कि वह एक बच्चे को चूम रहे हैं तो मैंने सोचा कि शायद मैं बार बार कहती थी इसलिए उन्होंने बच्चे को चुमा लेकिन बाद में मुझे पता चला कि वह बच्चा अमित शाह का पोता था।इनकी हालत ऐसी है जैसे स्कूल में बच्चे रेस लगाते हैं और जब उन्हें लगता है हारने वाले हैं तो जानबूझकर गिर जाते हैं और एक दूसरे पर दोष देते हैं कि इसने मुझे गिरा दिया ,इसने मुझे मेरे आगे लात अड़ा दी।कोई ना कोई बहाना बनाते हैं।इनकी हालत भी वैसी है।इन्होंने हमेशा राहुल गांधी का मजाक उड़ाया, उन्हें खूब कोसा,उन्हें खूब गालियां दी लेकिन उन्होंने हमेशा आत्मशक्ति का परिचय दिया।इतना मजाक उड़ाने के बाद भी वह मोदी जी को जाकर गले लगा कर आए ,यह उनकी आत्म शक्ति है।जो कायर होता है उसमें आत्म शक्ति का अभाव होता है।वह जनता का सामना नहीं कर पाता है।जनता जब उससे हक मांगती है तो जनता को दबाने लगता है।ऐसे ही हमारे प्रधानमंत्री हैं,वे जनता की सुन नहीं सकते।उनके घर जब किसान अधिकार मांगने आते हैं तो वे बाहर नहीं निकलते हैं।जब एससी वर्ग के लोग अधिकार मांगने आते हैं तो उनकी सुनते नहीं,जब एक आम आदमी व्यक्ति आता है तो उसकी सुनते नहीं।जब किसी व्यक्ति में सत्ता का अहंकार आ जाता है तो उसका भविष्य खराब हो जाता है।मैंने भी सत्ता को करीब से देखा है इंदिरा जी से लेकर कई प्रधानमंत्री को क़रीब से देखा है लेकिन इतना अहंकार कभी नहीं देखा।

नोट बंदी लागू की तो 5 वर्ष में 5 करोड लोगों का रोजगार गया।क्या नोटबंदी में आपने किसी भाजपा वाले या किसी अमीर उद्योगपति को लाइन में लगते लगते हुए देखा क्या ? यदि आपके इस मुसीबत के दौर में नोटबंदी के दौरान कोई व्यक्ति आपके साथ खड़ा रहा तो वह थे सिर्फ राहुल गांधी।
बात भ्रष्टाचार की करते हैं अरे राफेल सौदे में 30 हज़ार करोड का फायदा किसे दिया।एचएएल से लेकर कांटेक्ट किसको दिया ?
तभी जनता जोर जोर से चिल्लाने लगी “ चौकीदार चोर है -चौकीदार चोर है “
प्रियंका गांधी ने कहा कि जनता ही नेता की असली ताकत होती है।जनता ही नेता को बनाती है।आप अपनी ताकत पहचानिए और जो भी नेता आए उससे हिसाब माँगिये।
मैं आपसे एक सीरियस बात पर चर्चा करना चाहती हूं।आप सब पढ़े लिखे हैं।आप हमारा घोषणा पत्र ऑनलाइन पढ़िए।हमने उसमें गरीबों के लिए प्रतिवर्ष ₹72 हज़ार देने का वादा किया है।उसको लेकर भाजपा भ्रम फैला रही है कि वह हम मध्यम वर्ग से लेकर देंगे , यह सब झूठ है।
हम जीएसटी को सरल बनाएंगे।1 वर्ष में 24 लाख सरकारी नौकरी भरेंगे।3 वर्ष तक रोजगार देने वाले उद्योग के लिए कोई अनुमति की आवश्यकता नहीं होगी।
हम अपना वादा निभायेंगे।कमलनाथ जी भी किसानो की क़र्ज़माफ़ी का अपना वादा निभा रहे है।
इंदौर में आप जागरूक बनिये।कांग्रेस को जिताइये,पंकज संघवी को जिताइये।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com