Breaking News

गन्ना किसानों पर छिड़ा ट्वीट वॉर | Priyanka Gandhi Raise up Sugarcane farmer Payment issue CM Yogi Adityanath Replied

Posted on: 24 Mar 2019 15:33 by Mohit Devkar
गन्ना किसानों पर छिड़ा ट्वीट वॉर | Priyanka Gandhi Raise up Sugarcane farmer Payment issue CM Yogi Adityanath Replied

कांग्रेस अपने कई बयानों से बीजेपी को अपना निशाना बनाने की कोशिश कर रही है. अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गन्ना किसानों के बहाने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपना निशाना बना लिया. प्रियंका गांधी ने कहा है कि गन्ना किसानों के परिवार दिन-रात मेहनत करते हैं, लेकिन यूपी सरकार उनके भुगतान का भी जिम्मा नहीं लेती है. उन्होंने कहा कि यह चौकीदार सिर्फ अमीरों की ड्यूटी करते हैं, गरीबों की इन्हें परवाह नहीं है. प्रियंका के इस अटैक पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपना पलटवार बयान दिया है. 2

योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की पुरानी सरकारों को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि, हमारी सरकार जब से (मार्च 2017) सत्ता में आई है, हमने लंबित 57,800 करोड़ का गन्ना बकाया भुगतान किया है. ये रकम कई राज्यों के बजट से भी ज्यादा है, लेकिन पिछली सपा-बसपा सरकारों ने गन्ना किसानों के लिए कुछ नहीं किया जिससे किसान भुखमरी का शिकार हो रहा था.

किसानों के ये ‘तथाकथित’ हितैषी तब कहां थे जब 2012 से 2017 तक किसान भुखमरी की कगार पर था. इनकी नींद अब क्यों खुली है? योगी ने बताया कि प्रदेश का गन्ना क्षेत्रफल अब 22 प्रतिशत बढ़कर 28 लाख हेक्टेयर हुआ है और बंद पड़ी कई चीनी मिलों को भी प्रदेश में दोबारा शुरू किया गया है, किसान अब खुशहाल हैं. जबकि प्रियंका गांधी का कहना है कि भुगतान न होने से किसानों की जिंदगी रुक जाती है.

योगी आदित्यनाथ ने गन्ना किसानों के भुगतान का सवाल उठाने वाली प्रियंका गांधी को बिना नाम लिए जवाब देते हुए कहा कि “किसानों के ये ‘तथाकथित’ हितैषी तब कहां थे जब 2012 से 2017 तक किसान भुखमरी की कगार पर था. इनकी नींद अब क्यों खुली है? योगी ने आगे कहा कि “प्रदेश का गन्ना क्षेत्रफल अब 22 प्रतिशत बढ़कर 28 लाख हेक्टेयर हुआ है और बंद पड़ी कई चीनी मिलों को भी प्रदेश में दोबारा शुरू किया गया है, किसान अब खुशहाल हैं. जबकि प्रियंका गांधी का कहना है कि भुगतान न होने से किसानों की जिंदगी रुक जाती है.”

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com