Breaking News

आखिर क्यों पीएम मोदी को बचपन में कहा जाता था नारिया

Posted on: 21 Feb 2019 11:06 by Ravindra Singh Rana
आखिर क्यों पीएम मोदी को बचपन में कहा जाता था नारिया

नरेन्द्र मोदी का प्रारंभिक जीवन
नरेन्द्र दामोदरदास मोदी का जन्म वडनगर 17 सितम्बर 1950 को वडनगर मेहसाना जिले में हुआ। इनके पिता दामोदरदास मूलचंद और माता हीराबेन हैं। नरेंद्र मोदी के पिता की स्टेशन पर चाय की दुकान थी और वो अपने पिता के साथ वहीं चाय बेचा करते थे और उन्होंने 8 साल की उम्र में ही राष्ट्रीय स्वयं सेवक की जानकारी प्राप्त की। मोदी 6 भाई-बहनों में से तीसरे नंबर की संतान हैं। वे बचपन से ही नरिया कहे जाते थे, सभी लोग उन्हें नरिये के नाम से बुलाते थे।

मोदी जी ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा वडनगर से प्राप्त की और गुजरात महाविद्यालय से स्नातक की शिक्षा पूर्ण की, इसके बाद 18 वर्ष की आयु में उनका विवाह जसोदा बेन से कर दिया गया, लेकिन ये शादी ज्यादा समय तक चल नहीं पाई और दोनों अलग हो गये। इसी दौरान वो अपने घर-परिवार से भी अलग हो गए और उन्होंने और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ज्वाइन की, साथ ही राजनीती में कदम रखा। उन्होंने आगे का भविष्य राजनीति में बिताने के बारे में सोचा। उन्होनें राजनीति में कदम गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में रखा। उन्होंने पहली बार 2001 में केशुभाई के खिलाफ गुजरात विधानसभा चुनाव में भाग लिया और वहां के मुख्यमंत्री के रूप में पद ग्रहण किया। वर्तमान में नरेन्द्र मोदी का निवास स्थान गांधीनगर(गुजरात) में हैं।

Read More:-

पुलवामा हमले के बाद मोदी को उड़ाने की धमकी

पुलवामा हमला: कांग्रेस का बड़ा हमला, जवानों की शहादत भूले मोदी

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com