Breaking News

प्रदीप जोशी वीडियो कांड- यौन शोषित युवक की मौत!

Posted on: 12 Jul 2019 16:15 by bharat prajapat
प्रदीप जोशी वीडियो कांड- यौन शोषित युवक की मौत!

बीजेपी से निलंबित किए गए नेता प्रदीप जोशी का अश्लील वीडियो वायरल होने के बाद काफी बवाल मचा हुआ है। वहीं बताया जा रहा है कि इस मामले में यौन शोषित युवक अंकुर रघुवंशी की मौत हो गई है। जिसके बाद कांग्रेस ने अंकुर की संदिग्ध मौत को हत्या करार दिया है और पुलिस से उच्च स्तरीय जांच की भी मांग की है।

वही इस सेक्स कांड में गंभीर खुलासे भी हो रहे हैं जिसमें यह बात सामने आई है कि 7 मई को अंकुर की मौत हुई थी वहीं 8 मई को उसी के फेसबुक पर उसके आकस्मिक निधन की सूचना भी दी गई थी और अंतिम यात्रा का समय भी बताया गया था। जिससे यह सामने आ रहा है कि उसका फेसबुक अकाउंट कोई और चला रहा है। जिससे उसकी और अन्य युवाओं की अश्लील चैट और वीडियो भी वायरल हुए थे।

इधर पूरे मामले पर फिलहाल बीजेपी ने चुप्पी साध रखी है। वही बीजेपी के संगठन मंत्री प्रदीप जोशी की अश्लील चैट और एक अत्यंत आपत्तिजनक 5 सेकंड की वीडियो क्लिप वायरल होने के बाद इस मामले का भंडाफोड़ हुआ था। जिसके बाद पार्टी ने जोशी को निलंबित कर दिया था।
गौरतलब है कि इससे पहले शिवराज सरकार के दौरान मंत्री राघवजी की भी ऐसी ही अश्लील सीडी वायरल हुई थी जिसके बाद उन्हें तुरंत मंत्री पद से हटा दिया गया था और बीजेपी से भी निलंबित किया गया था। इसके अलावा उन्हें हिरासत में भी लिया गया था।

वहीं अब यह मामला तूल पकड़ता जा रहा है, मध्य प्रदेश कांग्रेस के सचिव राकेश सिंह यादव का आरोप है कि यह यौन शोषण का मामला 20 दिन पहले ही चर्चा में था और जब यह उजागर हुआ तो उसी वक्त कांग्रेस की ओर से आशंका जाहिर की गई थी कि अंकुर की हत्या कर दी गई है। अब यह आरोप सही साबित हो गया है।

खबरों की मानें तो यह युवक बीते कुछ वर्षों से प्रदीप जोशी से जुड़ा हुआ था और उज्जैन से लेकर ग्वालियर तक लगातार उसका यौन शोषण हो रहा था। जिससे वह यौन बीमारियों से पीड़ित हो गया था तब तत्कालीन शिवराज सरकार की मदद से उसका इलाज भी करवाया गया था। इधर जोशी ने अंकुर से मिलना जुलना भी कम कर दिया गया था इसका खुलासा भी जोशी के साथ उजागर हुई चैटिंग में किया गया था जिसमें कहा गया है कि आजकल आप मुझे अपने साथ नहीं रखते हो मैंने कई लड़कों को आपके साथ देखा है।

बताया जा रहा है कि अंकुर लगातार अपनी उपेक्षा से परेशान था वहीं कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि अंकुर के द्वारा जब जोशी को ब्लैकमेल करने की कोशिशें की गई तब सुनियोजित तरीके से शराब में उसे कुछ मिलाकर पिला दिया गया जिसके चलते 7 मई को उसकी मौत हो गई और बिना पोस्टमार्टम कराए ही उसका अंतिम कर दिया गया।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com