Poster - World -Population- Day

इंदौर: एक्रोपोलिस इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज एण्ड रिसर्च (एआईएमएसआर) में विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर बी.बी.ए. बी.कॉम. एवं बी.एस.सी. के विद्यार्थियों के लिए पोस्टर स्पर्धा आयोजित की गई। इस मौके पर विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए इंस्टिट्यूट के डायरेक्टर एवं ख्यात शिक्षाविद् डॉ. जयंतीलाल भंडारी ने कहा कि, यद्यपि भारत ने दुनिया मे सबसे पहले 1952 से परिवार नियोजन कार्यक्रम अपनाया हुआ है।

लेकिन देश की जनसंख्या लक्ष्य के अनुरूप नियंत्रित नहीं हुई है। 135 करोड़ जनसंख्या के साथ भारत चीन के बाद दुनिया का दूसरा सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश है, लेकिन भारत छलांगे लगाकर बढ़ती हुई जनसंख्या के कारण वर्ष 2025 तक दुनिया का सबसे अधिक आबादी वाला देश बन जाएगा।

भारत के पास के कुल क्षेत्रफल का 2.4 फीसदी ही है, लेकिन दुनिया की 17.84 फीसदी जनसंख्या भारत में रहती हैl बढती जनसंख्या के कारण देश में विभिन्न आर्थिक-सामाजिक समस्यायें चुनौतीपूर्ण रूप से बढ़ रही है। भारत में जनसंख्या और संसाधन का अनुपात असंतुलित हो गया है। ऐसे मे एक ओर देश में परिवार नियोजन के प्रयास बढ़ाना होंगे, वहीं दूसरी ओर देश की नई पीढ़ी को कौशल प्रशिक्षण से सुसज्जित करना होगा।

इस पोस्टर स्पर्धा में प्रथम स्थान पर अर्पित कुलकर्णी, एवं सुरभि पटेल संयुक्त विजेता रहे। द्वितीय स्थान पर अमिषा सुगंधी एवं तृतीय स्थान पर अनुषा सिंह जादौन रही। निर्णायक प्रसिद्ध रंगकर्मी अंकिता मेहता थी। इस मौके पर डॉ. मनीष जैन, डॉ. मनीष व्यास, डॉ. प्रणोती बेलापुरकर, निमिष तिवारी आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम के सत्रू धार प्रो. समीर दुबे थे।

LEAVE A REPLY