कालाधन जमा करने वाले भारतीयों की खुलेगी पोल, स्विस बैंक आज सौंपेगा लिस्ट

0
81

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने कालेधन को लेकर नोटबंदी की थी, ताकि काली कमाई को उजागर किया जा सके। अब मोदी सरकार-2 कालेधन के मामले में एक्शन में नजर आ रही है। दरअसल, स्विट्जरलैंड स्थित स्विस बैंक रविवार को भारतीय टैक्स अधिकारियों को एक लिस्ट सौंपेगी, जिसमें ऐसे खाताधारकों के नाम है, जो भारतीय है। लिस्ट मिलते ही स्विस बैंक में कालाधन जमा करने वालों की पोल खुल जाएगी।

इस संबंध में केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने कहा कि काले धन के खिलाफ सरकार की लड़ाई में एक महत्वपूर्ण कदम है और स्विस बैंकों के गोपनीयता का युग आखिरकार सितंबर से खत्म हो जाएगा। सीबीडीटी आयकर विभाग के लिए नीति बनाता है। वहीं सीबीडीटी ने बताया कि भारत को स्विट्जरलैंड में भारतीय नागरिकों के साल 2018 में बंद किए खातों की जानकारी भी मिलेगी।

सीबीडीटी का कहना है कि सूचना आदान-प्रदान की यह व्यवस्था शुरू होने के ठीक पहले भारत आए स्विट्जरलैंड के एक प्रतिनिधिमंडल ने राजस्व सचिव एबी पांडेय, बोर्ड के चेयरमैन पीसी मोदी और बोर्ड के सदस्य (विधायी) अखिलेश रंजन के साथ बैठक की. 29-30 अगस्त के बीच आए इस प्रतिनिधिमंडल की अगवानी स्विट्जरलैंड के अंतरराष्ट्रीय वित्त मामलों के राज्य सचिवालय में कर विभाग में उप प्रमुख निकोलस मारियो ने की। संसद सत्र के दौरान जून माह में लोकसभा में वित्त पर स्टैंडिंग कमेटी की एक रिपोर्ट पेश की गई थी। इसके मुताबिक साल 1980 से साल 2010 के बीच 30 साल के दौरान भारतीयों के जरिए लगभग 246.48 अरब डॉलर यानी 17,25,300 करोड़ रुपए से लेकर 490 अरब डॉलर यानी 34,30,000 करोड़ रुपए के बीच काला धन देश के बाहर भेजा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here