सिंगापुर के पीएम की सालाना सैलरी 2 मिलियन डॉलर, भारत में महज 19 लाख

0
13

नई दिल्ली। लगातार 13 बार से सिंगापुर के प्रधानमंत्री चुने जा रहे ली हसेन लूंग दुनिया में सबसे अधिक सैलरी पाने वाले नेता हैं। उन्हें सालाना 2.2 मिलियन डॉलर मिलते हैं। उनका मासिक वेतन 1,47,000 अमेरिकी डॉलर है जबकि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सालाना 18 लाख 96 हजार रुपए वेतन के तौर पर मिलते हैं। आपकी जानकारी के लिए हम यहां प्रमुख देशों के प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति को मिलने वाले पैकेज के बारे में बता रहे हैं।

 pm

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को एक साल की सैलरी तीन लाख दो हजार डॉलर यानी करीब दो करोड़ रुपए है। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टरीजा मे की सालाना सैलरी 2,02,769 अमेरिकी डॉलर यानी 1,37,42,844 रुपए है। सैलरी के अलावा उन्हें 3.97 लाख रुपए का आवासीय भत्ता और रिटायरमेंट प्लान के तहत 1.48 लाख डॉलर मिलते हैं।
अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप अपनी पूर्व घोषणा के अनुसार, अब तक सालाना सैलरी में चार लाख डॉलर तीन किस्तों में दान किए हैं। हालांकि उनकी कुल कमाई की तुलना में यह 50 प्रतिशत है। ट्रंप को सालाना 569, 000 अमेरिकी डॉलर यानी करीब 3,85,64,021 रुपए मिलते हैं। इसमें कई भत्ते भी शामिल हैं। जैसे एक्सट्रा एक्सपेंस अलाउंस के तौर पर पचास हजार अमेरिकी डॉलर और ट्रैवल अलाउंस के तौर पर एक लाख डॉलर के अलावा उन्हें मनोरंजन के लिए भी 19 हजार डॉलर मिलते हैं।
स्विटजरलैंड के राष्ट्रपति एलेन बर्सेट को सालाना 480,000 अमेरिकी डॉलर सैलरी मिलती है। खास बात यह है कि स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति को सैलरी भी आम नागरिकों की तरह महंगाई भत्ते को ध्यान में रखते हुए मिलती है। 2017 में उनकी सैलरी 4,52,565 रुपए थी।
कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो को सालाना 345400 डॉलर मिलते हैं। उन्हें एक सैलरी राष्ट्रपति के तौर पर 170, 400 डॉलर मिलती है और दूसरी सैलरी सांसद के तौर पर 172,700 डॉलर मिलती है। इसके अलावा उन्हें कई भत्ते भी मिलते हैं। दो हजार डॉलर उन्हें कार अलाउंस के तौर पर मिलते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here