Breaking News

वाराणसी में रोड शो करने पर मोदी को पड़ी डांट, खुद बताया किस्सा

Posted on: 26 Apr 2019 12:07 by Surbhi Bhawsar
वाराणसी में रोड शो करने पर मोदी को पड़ी डांट, खुद बताया किस्सा

लोकसभा चुनाव 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर काशी से चुनावी रण में उतरे है। यहां से नामांकन दाखिल करने से पहले मोदी ने यहां भव्य रोड शो किया। मोदी के इस रोड शो में बनारस में जबदस्त जनसैलाब नजर आया। बनारस की छोटी से छोटी गली लोगों की भीड़ से पट गई थी। रोड शो से पहले कार्यकर्ताओं में भारी जोश नजर आया। हर तरह मोदी के समर्थन में पोस्टर लगाए गए थे और मोदी के आते ही फूलों की बारिश शुरू हो गई। हालांकि इस रोड के दौरान कुछ ऐसा वाक्या हुआ जिसका जिक्र खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया।

खाना पड़ी डांट

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रोड शो करने के बाद काफी डांट खानी पड़ी. उन्हें ये डांट सोशल मीडिया पर खानी पड़ी। उनके प्रशंसकों ने सुरक्षा के मुद्दे पर उन्हें रोड शो करने से मना किया। इस बात का खुलासा खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया।

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को पार्टी के बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने खुलासा किया कि रोड शो करने पर उन्हें बहुत डांट पड़ी। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर कल रोड शो के बाद सुरक्षा के मुद्दे पर लोगों ने उन्हें काफी डांट लगाई और रोड शो करने से मना किया।

मोदी ने कहा कि ‘कल लोग मुझे सोशल मीडिया पर डांट रहे थे। जब मैं रोड शो कर रहा था तो लोग मुझे डांट कर कह रहे थे, मोदी जी रोड शो बंद कर दीजिए। आप अंधेरे में ऐसे कैसे अकेले निकलते हो, आपकी सुरक्षा का मुद्दा रहता है। अभी श्रीलंका में भी ऐसा ही हुआ।’

इतना ही नहीं मोदी ने बताया कि ‘’लोग डांटते हुए कह रहे थे कि आप अपने मालिक नहीं हो, हम आपके मालिक हैं। मुझे बहुत डांट पड़ी है, लेकिन अगर मोदी की कोई सुरक्षा करता है तो इस देश की करोड़ों माताएं-बहनें हैं। वे मेरी सुरक्षा कवच बनती हैं, माताएं-बहनें इस बार चुनाव के लिए पूजा-पाठ कर रही हैं, व्रत रख रही हैं। वो दूर अपने बेटे को फोन कर रही हैं कि घर वापस आकर वोट डालो।’

गुरूवार को किया था रोड शो

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरूवार को काशी में बह्व्य रोड शो किया था। इस 6 किलोमीटर के रोड शो में हजारों की संख्या में कार्यकर्ता मोदी की एक झलक पाने के लिए पहुंचे थे। पूरी काशी मोदी-मोदी और हर-हर महादेव के नारों से गूँज उठी थी। काशी की सड़कें भगवामय हो गई थीं।

रोड शो के बाद प्रधानमंत्री ने गंगा आरती भी की। इस दौरान मोदीदशाश्वमेध घाट पर गंगा भक्ति में डूबे नजर आए। पीएम मन में गंगा आरती गुनगुनाते दिखाई दिए। साथ ही गंगा आरती और शंखनाद की ध्वनि पर मंत्रमुग्ध हुए।

गंगा आरती और पूजा के बाद पीएम मोदी ने काशी की जनता को संबोधित किया। मोदी ने कहा कि काशी में मिले प्यार से अभिभूत हूं। वाराणसी ने मुझे नई-नई चीजें सीखने में मदद करने में बड़ी भूमिका निभाई है। बीते पांच वर्ष पुरुषार्थ के थे, आने वाले पांच वर्ष परिणाम के होंगे। बीते पांच वर्ष ईमानदारी के प्रयास के थे। आने वाले पांच वर्ष उन प्रयासों को विस्तार देेने के होंगे। बीते पांच वर्ष परिवर्तन की शुरुआत के थे। आने वाले पांच वर्ष देश की प्रतिष्ठा के होंगे।

मोदी ने कहा कि काशी के कोतवाल काल भैरव हैं, उन्हीं की प्रेरणा से ये चौकीदार 21वीं सदी में भारत को नई ऊंचाई पर ले जाने में जुटा है। जब नीयत साफ होती है तो नियंता का भी साथ होता है। नीयत नेक होती है तो नीति भी एक होती है। न भेदभाव होता है, न दोहरा रवैया होता है। आज मैं कह सकता हूं कि सामूहिक प्रयास और बाबा के आशीर्वाद से काशी के बदलाव को पूरा देश अनुभव कर रहा है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com