Live : पीएम मोदी बोले, गुरुवायूर की धरती पर आना मेरा सौभाग्य | PM Narendra Modi addresses Public in Guruvayur of Kerala

0
164

प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी शनिवार सुबह केरल के त्रिशूर पहुंचे, जहां उन्होंने गुरुवयूर में स्थित श्रीकृष्ण मंदिर में पूजा-अर्चना की। पीएम मोदी के कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक प्रधानमंत्री बनने के बाद यह उनकी पहली केरल यात्रा है। त्रिशूर जिले में स्थित यह मंदिर सदियों पुराना है। यह राज्य में हिंदू पूजा के महत्वपूर्ण स्थानों में से एक है।

पीएम मोदी ने प्रसिद्ध गुरुवायूर मंदिर पहुंचकर भगवान श्रीकृष्ण की विशेष पूजा-अर्चना कर आशीर्वाद मांगा। पूजा-अर्चना के बाद पीएम मोदी का 112 किलो कमल के फूलों से तुलादान किया। पूजा-अर्चना के दौरान पीएम मोदी मंदिर की पारंपरिक वेशभूषा में नजर आए। बताया जाता है कि यदि पारंपरिक वेशभूषा ना पहनी जाए, तो मंदिर में प्रवेश नहीं दिया जाता है।

गौरतलब है कि गुरुवायूर मंदिर पांच हजार साल पुराना है। मंदिर के गर्भगृह में श्रीकृष्ण की मूर्ति विराजित है। मंदिर में दर्शन और जनसभा को संबोधित करने के बाद मोदी कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हावई अड्डे से दिल्ली के लिए दोपहर 2 बजे रवाना हो जाएंगे। इसके बाद पीएम मोदी आज ही मालदीव और श्रीलंका यात्रा के लिए रवाना हो जाएंगे।

केरल में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि केरल के लोगों का अभिनंदन करता हूं। देशभर में प्रचंड जीत दिलाने के लिए जनता का आभारी हूं। उन्होंने कहा कि गुरुवायूर की धरती पर आने का मुझे सौभाग्य मिला। ये मेरे लिए नई शक्ति देने वाला अवसर है. पीएम मोदी ने इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं का आभार जताया। साथ ही उन्होंने लोकतंत्र के उत्सव में योगदान के लिए केरल के लोगों का धन्यवाद किया।

उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेता कहते हैं कि केरल में भाजपा का खाता भी नहीं खुला, फिर भी मोदी धन्यवाद के लिए गए, जो हमें जिताते हैं वो भी हमारे हैं, जो नहीं वो भी हमारे हैं. केरल मेरे लिए उतना ही है जितना बनारस है। उन्होंने कहा कि देश में चुनाव जीतने के बाद विशेष जिम्मेदारी होती है, 130 करोड़ नागरिकों की। जो हमें जिताते हैं, वो भी हमारे है। जो इस बार हमें जिताने में चूक गए हैं, वो भी हमारे हैं। जनता-जर्नादन ईश्वर का रूप है, ये इस चुनाव में देश ने भलि-भांति देखा है। राजनीतिक दल जनता के मिजाज के नहीं पहचान पाए।

मोदी ने कहा कि देश के गरीबों को अपना घर बेचना ना पड़े इसके लिए हम 5 लाख की सुविधा दे रहे हैं, लेकिन केरल के लोगों को यह सुविधा नहीं मिल रही है, क्योंकि यहां की सरकार ने इस सुविधा को लागू करने से मना किया है। हम अपील करते हैं कि वे स्वीकार करें और केरल के लोग इसका फायदा उठा सकें। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम राजनीति में सरकार बनाने के लिए नहीं हैं. हम लोगों की सेवा करने के लिए यहां हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here