पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाने से पहले जरूर जान लें यह बात

0
985
vastu

हिन्दू धर्म में पीपल के पेड़ को काफी महत्वपूर्ण माना गया है। माना जाता है कि पीपल के पेड़ में देवता वास करते है इसलिए इसे देव वृक्ष भी कहा जाता है। गीता में भगवान कृष्ण ने पीपल को स्वयं अपना ही स्वरूप बताया है। पीपल के पेड़ पर अकसर लोग जल चढ़ाते हैं। पीपल से जुड़ी कुछ खास बातों को जल चढ़ाने से पहले जान लेना चाहिए।

1- शास्त्रों के अनुसार रविवार के दिन पीपल की पूजा नहीं करनी चाहिए इससे घर में दरिद्रता आती है

2- इसके साथ ही आठ बजे के बाद पीपल के आगे दिया नहीं जलाना चाहिए क्योंकि आठ बजे के बाद देवी लक्ष्मी की बहन दरिद्रता का वास माना जाता है।

3- पीपल का पेड़ घर से दूर होना चाहिए। इसकी छाया घर पर नहीं पड़नी चाहिये।

4- शास्त्रों में कहा गया है कि पीपल के वृक्ष को बिना प्रयोजन के काटना अपने पितरों को काट देने के समान है। ऐसा करने से वंश कि हानि होती है।

5- यज्ञ आदि पवित्र कार्यों के उद्देश्य से इसकी लकड़ी काटने से कोई दोष न होकर अक्षय स्वर्ग की प्राप्ति होती है पीपल सर्वदेवमय वृक्ष है, इसका पूजन करने से समस्त देवता प्रसन्न हो जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here