Breaking News

पेट्रोल डीजल के बढ़ सकते है दाम, जीडीपी पर पडे़गा ये असर | Petrol Diesel Prices may Increase, will Fall on GDP

Posted on: 02 May 2019 14:52 by bharat prajapat
पेट्रोल डीजल के बढ़ सकते है दाम, जीडीपी पर पडे़गा ये असर | Petrol Diesel Prices may Increase, will Fall on GDP

देश में पेट्रोल-डीजल खरीदने के लिए आम जनता को अपनी जेब और अधिक ढीली करनी पड़ेगी। दरअसल अमेरिका द्वारा भारत को ईरान से कच्चे तेल की खरीद की मिली छूट आज समाप्त हो गई है। इसके चलते भारत को अब कच्चे तेल की आपूर्ति के लिए अमेरिका, इराक और सऊदी अरब जैसे देशों पर निर्भर रहना होगा। इरान से कच्चे तेल का आयात बंद होने के बाद अब भारत में पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी आशंका भी पैदा हो गई है।

बता दे कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 2 मई से इरान से कच्चा तेल का आयात बंद करने की घोषणा की थी। इसके बाद से ही भारत ने तेल आयात के दूसरे विकल्पों पर विचार करना शुरू कर दिया था। विश्लेषकों के अनुसार ओपेक की अगुवाई करने वाले सऊदी अरब पर सभी देशों की नजरें होंगी अगर सऊदी अरब और उसके सहयोगी देश तेल आपूर्ति बढ़ाते हैं तो ही कीमतें स्थिर रह पाएंगे।

भारत को सबसे अधिक कच्चे तेल की आपूर्ति सऊदी अरब करता रहा है। लेकिन वर्ष 2017-18 में इराक ने उसे पीछे छोड़ दिया था। वाणिज्यिक जानकारी एवं सांख्यिकी महानिदेशालय के आंकड़ों के अनुसार भारत ने इरान से अप्रैल 2018 से मार्च 2019 के दौरान 4.66 करोड़ टन कच्चा तेल खरीदा है। जो कि वित्त वर्ष 2018 के 4.57 करोड की तुलना में 2 फिसदी ज्यादा है। आंकड़ों की मानें तो भारत ने इराक से 2018-19 में 2.39 करोड़ टन कच्चे तेल का आयात किया था। पिछले वित्त वर्ष में 2.5 करोड़ का आयत किया गया था।

बता दें कि भारत चीन, जापान और यूरोप के कई देश की अर्थव्यवस्था तेल आयात पर निर्भर है। यदि तेल के दाम बढ़ते हैं तो इसका जीडीपी पर भी असर पड़ेगा और और मंहगाई बढ़ सकती है। यही नहीं अगर तेल 100 डाॅलर पहुंचता है तो रुपया गिर सकता है। जिसके चलते भारत को आयात के बदले ज्यादा पूंजी चुकानी होगी और शेयर बाजार भी नीचे आ सकता है। साथ ही भारत सहित विश्व के कई देशों की विकास दर भी गिर सकती है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com