Breaking News

रिपोर्ट कार्ड पर जनता लिखाएगी ‘रपट’

Posted on: 09 Mar 2019 10:14 by Pawan Yadav
रिपोर्ट कार्ड पर जनता लिखाएगी ‘रपट’

गोविन्द मालू
मध्यप्रदेश की 76 दिन की कमलनाथ सरकार की उपलब्धियों का बखान फिर ‘आँखों में धूल झोंकने’ की कांग्रेसी परिपाटी का अनुसरण है! उपलब्धि के नाम पर हरा, सफ़ेद, गुलाबी कागज़ व कर्जमाफी प्रमाण पत्र की कागजी नाव चलाने, योजनाओं के नाम बदलने, कानून व्यवस्था को रसातल में ले जाने तथा तबादलों में भ्रष्टाचार का कीर्तिमान कायम करने वाली सरकार है! झूठे, फ़रेबी और कूटरचित रिपोर्ट कार्ड जारी करने की धोखाधड़ी पर प्रदेश की जनता कमलनाथ सरकार के खिलाफरिपोर्ट कराएगी!

मध्यप्रदेश राज्य खनिज विकास निगम के पूर्व उपाध्यक्ष गोविन्द मालू ने कहा कि कमलनाथ एयर स्ट्राइक पर सबूत मांगने के बजाए कागज़ पर योजना बनाने और घोषणा करने के बजाए जनता तक कितना लाभ पहुँचाया इसका सबूत दें। किसानों को छला जा रहा है केवल ऋण माफ़ी के प्रमाण पत्र टेंट लगाकर बाँट देने से ऋण माफ़ नहीं हो जाएगा। बैंकों में सरकार ने राशि जमा ही नहीं की, साथ ही दो लाख तक का हर लोन माफ़ करने का वचन भी भंग किया। कर्ज खाते आज भी ऋण राशि बकाया बताकर सरकार को मुँह चिढ़ा रहे हैं। भोले-भाले किसानों के साथ दुहरा छल सरकार कर रही है।
किसान के बैंक खातों में ऋण बकाया बताया जा रहा है और नया ऋण मिल नहीं पा रहा है। चुनाव के समय हर किसान का 2 लाख तक का हर तरह का कर्जा माफ़ करने का प्रचार व वचन एक दिवास्वप्न साबित हुआ है |

तबादला सरकार

गोविंद मालू ने कहा कि एक उपलब्धि जरुर इस सरकार के नाम पर है। 76 दिन में से 60 दिन कार्यदिवस में 42,698 छोटे बड़े तबादले और 12,989 इनकी निरस्ती कर पुनः नई पदस्थापना की गई। लगभग 1,546 लोगों के तीन से पाँच बार तबादले कर एक विश्व कीर्तिमान जरुर अपने नाम लिखा लिया। ‘तबादला उद्योग’ इस सरकार की बड़ी उपलब्धि कही जा सकती है। ‘संबल योजना’ का नया रूप ‘इंदिरा गृह ज्योति योजना’ कर देने का लाभ भी जनता को नहीं मिल रहा! रोजगार के अवसर कितने दिए यह भी नहीं बताया तथा तीन बार इस सरकार ने 16000 करोड़ का कर्ज लेकर कौन सा नया विकास का काम शुरू किया? वह भी मुख्यमंत्री बताने में नाकाम रहे हैं। कर्ज लेकर बंगले, गाड़ी और ऐशोआराम पर सरकार फिजूलखर्ची ज्यादा कर
रही है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com