पाकिस्तान की फिर बढ़ी मुश्किलें, IMF ने दी ये चेतावनी

0
89
pakistan-min

पाकिस्तान इन दिनों अपनी आर्थिक बदहाली और भारी कर्ज से जूझ रहा है. इसी बीच आईएमएफ की एक रिपोर्ट सामने आई है, जिससे पाकिस्तान की मुश्किलें और भी बढ़ सकती है. आईएमएफ ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि मौजूदा वित्त वर्ष 2019-20 में पाकिस्तान में बेरोजगारी में वृद्धि होगी.

पहले आईएमएफ ने चेतावनी देते हुए कहा है कि पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था में मौजूदा वित्तीय वर्ष में महज 2.4 फीसदी की दर से वृद्धि होगी. इस हफ्ते मंगलवार को आईएमएफ अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि पाकिस्तान में मौजूदा वित्तीय वर्ष के दौरान बेरोजगारी की दर 6.1 फीसदी से थोड़ा बढ़कर 6.2 फीसदी हो जाएगी.

आईएमएफ ने कहा है कि पाकिस्तान की “अर्थव्यवस्था साल 2020 में महज 2.4 फीसदी की दर पर ही रहेगी. मंहगाई भी चिंताजनक 13 फीसदी के स्तर पर रहेगी. लेकिन, साथ ही कहा है कि ढांचागत सुधार के कारण आगे चलकर यह वृद्धि दर बढ़ेगी और 2023-24 में विकास दर के पांच फीसदी तक पहुंचने के आसार हैं. साथ ही मंहगाई दर भी तब तक 13 फीसदी से कम होकर पांच फीसदी पर आ जाएगी और 2024 तक चालू खाता घाटा घटकर 1.8 फीसदी रह जाएगा.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here