नई  दिल्ली: पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान कुछ सालो में पानी की बहुत किल्लत होने वाली है। बताया जा रहा है कि चंद सालों में पाक पानी की बूंद-बूद का मोहताज हो जाएगा। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ)  सहित कई अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं की रिसर्च रिपोर्ट की माने तो 7 साल के अंदर पाकिस्तान को रेगिस्तान में तब्दील होने की आशंका जताई है।बता दे कि इस आमले को पाकिस्तान के अखबारों में छापा गया है। यहां की उर्दू दैनिक ‘जंग’ ने लिखा है कि जल विशेषज्ञ दशकों से पानी की बढ़ती हुई किल्लत और भविष्य में पैदा होने वाली गंभीर स्थिति की तरफ ध्यान दिलाने की कोशिश करते रहे हैं। लेकिन सरकार का रवैया बहुत ही ढीला ढाला रहा है।एक तरफ सरकार से इस मुद्दे को गंभीरता से लेने को कहा जा रहा है तो दूसरी तरफ भारत पर सिंधु जल समझौते के उल्लंघन के आरोप मढ़े जा रहे हैं। पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने भी मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुए पानी के गहराते संकट के लिए सरकारों को जिम्मेदार बताया है।

LEAVE A REPLY