पाकिस्तान ने फिर की हरकत नहीं करने दी दुर्गा पूजा

पाकिस्तान के पब्जे वाले कश्मीर में स्थित मां शारदा शक्ति पीठ स्थल पर 72 साल बाद पहली बार पूजा की गई।

0
23
पाकिस्तान

पाकिस्तान के पब्जे वाले कश्मीर में स्थित मां शारदा शक्ति पीठ स्थल पर 72 साल बाद पहली बार पूजा की गई। हिन्दू श्रद्धालुओं ने वहां पहुँच कर मां की पूजा अर्चना की। आपको बता दें कि हांगकांग में रहने वाले भारतीय मूल के दंपती केपी वेंकटरमन और सुजाता नवरात्रि के मौके पर वह मां की पूजा करने पहुंचे। लेकिन भारतीय मूल के होने की वजह से पाकिस्तान ने उन्हें शारदा पीठ तक जाने की अनुमति नहीं दी थी उसके बाद जब पाकिस्तान ने सारी पूछताछ की तब उन्हें शारदा पीठ तक जाने की अनुमति दी गई।

दरअसल शारदा पीठ तक पहुंचने में दंपती केपी वेंकटरमन और सुजाता को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा क्योंकि शारदा पीठ पूरी तरह से खंडहर हो हैं। बता दें कि, कई दिन की पूछताछ के बाद एनओसी जारी की गई। गौरतलब है कि 27 सितंबर को एनबीटी ने पीओके स्थित शारदा पीठ के बारे में जानकारी दी थी। 72 साल बाद मां शारदा पीठ के दर्शन कर चुके दंपत्ति को अभी हाल ही में सोशल मीडिया से पता चला की पीओके स्थित इस शक्ति पीठ आजादी के बाद तक आज तक कोई नहीं जा सका था।

दंपती ने ट्विटर के जरिए ‘सेव शारदा समिति कश्मीर’ के फाउंडर रविंद्र पंडित से संपर्क साधा और जानकारी हासिल की। शारदा शक्ति पीठ की यात्रा के लिए 30 सितंबर को दंपती केपी वेंकटरमन और सुजाता वैध वीजा पर पाकिस्तान के मुजफ्फराबाद पहुंचा। दो स्थानीय निवासियों ने केपी वेंकटरमन और सुजाता मदद की। पीओके जाने के लिए एनओसी जरुरी था।

दरअसल, शारदा शक्ति पीठ मंदिर पूरी तरह खंडहर हो चूका है। नियंत्रण रेखा पर बढ़ते तनाव के बीच उसी रात को शारदा पीठ क्षेत्र में भारी गोलाबारी भी हुई। बताया जा रहा है कि उन दम्पति को वहां से सुरक्षित निकालने में दो स्थानीय लोगों ने उनकी मदद की। रविंद्र पंडित और अन्य लोगों ने कहा कि करतारपुर की तरह ही शारदा पीठ को फिर से खोले जाने की मांग की जाएगी। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here