कुलभूषण जाधव पर सीजेआई के फैसले को पाक ने बताई अपनी जीत, भारत ने लताड़ा

0
38

नई दिल्ली : अन्तर्राष्ट्रीय न्यायालय द्वारा कुलभूषण जाधव मामले में दिए गए फैसले को पाकिस्तान अपनी जीत बता रहा है। जिसके बाद भारत ने पाक को जमकर लताड़ लगाई है। भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि ‘सच बोलूं तो मुझे लग रहा है कि वह कोई और फैसला पढ़ रहे हैं। मुख्य फैसला 42 पन्नों का है। यदि उनके पास 42 पन्ने पढ़ने भर के लिए सब्र नहीं है तो उन्हें सात पन्नों की प्रेस विज्ञप्ति पढ़नी चाहिए, जिसमें हर बिंदु भारत के पक्ष में है।’ उन्होने आगे कहा, ‘मुझे लगता है कि उनकी अपनी कुछ मजबूरियां हैं, इसीलिए उन्हें अपने ही लोगों से झूठ बोलना पड़ रहा है।’

वहीं, रवीश कुमार ने पाकिस्तान में वैश्विक आतंकी हाफिज सईद की गिरफ्तारी को ड्रामा करार दिया है। उन्होने कहा, ‘ये गिरफ्तारी-रिहाई, गिरफ्तारी-रिहाई बहुत दिनों से हो रही है। भारत में होने वाली हर बड़ी आतंकी घटना में उसका हाथ होता है, उसे पहले भी गिरफ्तार किया गया था, लेकिन किन्हीं कारणों से छोड़ भी दिया गया था। मेरी गिनती के मुताबिक, यह ड्रामा साल 2001 के बाद से आठ से भी ज्यादा बार हो चुका है।’

बता दे कि अंतर्राष्ट्रय न्यायालय द्वारा कुलभूषण जाधव पर दिए गए फैसले को पाकिस्तान अपनी जीत बता रहा है। पाकिस्तान के एक अधिकारीक टब्र हैंडल पर इस फैसले को अपने पक्ष में बताते हुए कहा, ‘पाकिस्तान की बड़ी जीत। आईसीजे ने भारत की कुलभूषण जाधव को रिहा करने और भारत भेजने की मांग खारिज की।‘

गौरतलब है कि के आईसीजे अध्यक्ष जज अब्दुलकावी अहमद यूसुफ की अगुवाई वाली पीठ ने कुधवार को जाधव मामले में भारत के पक्ष में फैसला सुनाते हुए उनकी फांसी पर रोक लगा दी थी। साथ ही पाक को जाधव को कॉन्सुलर एक्सेस की सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश भी जारी किए थे और उन्हें सुनाई गई सजा की प्रभावी समीक्षा किए जाने और उस पर पुनर्विचार करने का आदेश जारी किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here