पाक पीएम इमरान का आतंकियों के लिए नरम रुख, भारत के लिए परेशानी का कारण

0
16
imran-khan

पाकिस्तान की सत्ता में परिवर्तन हो चुका है, पाक की जनता ने 22वें प्रधानमंत्री के रूप में इमरान खान को चुन लिया है. इमरान ने जुलाई 2018 में हुए चुनाव में 176 सीट हासिल कर जीत दर्ज की थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान की सत्ता पर काबिज होने जा रहे इमरान खान के तेवर भारत के लिए बहुत तल्ख है.

इमरान की इस जीत में पाक सेना का बड़ा हाथ रहा है. पाकिस्तान के चुनाव परिणाम आने के बाद इलेक्शन नहीं सिलेक्शन की बाते सामने आई थी. इमरान और सेना के बीच का ये तालमेल भारत के लिए परेशानी खड़ी कर सकता है.JAMMU_KASHMIRपाक सेना आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए आए दिन सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन करती है. हाल ही में आई सुरक्षा एजेंसी की रिपोर्ट्स के मुताबिक पाक ने 600 से ज्यादा आतंकियों को भारत में घुसपैठ कराने के लिए तैयार कर रखा है.

भारत के लिए इमरान खान की जीत कई चिंताएं लेकर आई हैं. इमरान पर अपने मुल्क में तालिबान खान होने के आरोप लग चुके हैं. वे आतंकियों के समर्थक माने जाते हैं.terrist in pakistanइमरान खान ने कुछ समय पहले मानवाधिकार की रक्षा के नाम पर पाक के अलग-अलग इलाकों में आतंकवादियों के खिलाफ सैनिक ऑपरेशन का विरोध किया था . इमरान के इस रुख से उन्होंने आतंकियों की सहानुभूति जीती और उन इलाकों में अपनी गहरी पैठ बनाई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here