शेयर बाजार में हाहाकार, निवेशकों के डूबे 3 लाख करोड़ रुपये

0
Share market

मुंबई। शेयर बाजार में सोमवार को बड़ी गिरावट देखने को मिली जिसके चलते तीन घंटे में निवेशकों के 3 लाख करोड़ रुपये डूब गए। दिन भर में सेंसेक्स 790 अंक गिर गया। जबिक निफ्टी ने 12 हजार का अहम स्तर तोड़ दिया है। बैंक शेयर भी लाल निशान पर रहे। बताया जा रहा है कि कच्चे तेल की कीमतों में हुए उछाल के कारण बाजार की ये स्थिति बनी है।

ट्रेड स्विफ्ट के निदेशक संदीप जैन के मुताबिक बाजार पहले से ही उच्च स्तर पर कारोबार कर रहा है, ऐसे में अमेरिक और ईरान के बीच जारी तनाव और कच्चे तेल के महंगे दामों का असर नही देखने को मिल रहा है। उन्होने कहा है कि हालांकि ये निवेशकों के लिए चिंता की बात नहीं है। यदि अच्छे फंडामेंटल वाले शेयर में निवेश है तो उन्हें होल्ड करें और नई पोजिशन लेने से बचें।

बता दे कि अमेरिका और ईरान के बीच लगातार बढ़ रहे तनाव के चलते कच्चे तेल की दाम में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। वहीं ब्रेंट के दाम में भी दो फीसदी की वृव् िदेखी गइ्र है जिसके चलते ये 70 डॉलर के करीब पहुंच गया है। बताया जा रहा है कि बीते साढ़े तीन महीनों में कच्चे तेल का यह सबसे ऊंची कीमत है।

इतना ही नहीं अमेरिका और ईरान में बढ़ते तनाव से सोने की कीमत में भी जोरदार उछाल हुआ है और पहली बार सोने के दाम 41 हजार के पार पहुंच गए हैं। वहीं मिडिल-ईस्ट में जारी चिंता से कच्चे तेल में भी जोरदार तेजी आई है। वहीं रुपया भी कमजोर होकर 72 रुपए प्रति डॉलर 72 के करीब पहुंच गया है।