GREEN B1RDS: ISIS की खौफनाक साजिश का खुलासा, हिंदुस्तान में तबाही मचाने का था प्लान

ISIS हिंदुस्तान में बेगुनाह लोगों का खून बहाने की साजिश टेलीग्राम एप्प पर बने ग्रुप पर कर रहा था। आतंकियों ने इस ऑपरेशन को 'GREEN B1RD' नाम दिया था।

0
128
ISIS

नई दिल्ली: देश में स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर सभी सिक्यूरिटी एजेंसियां हाई अलर्ट पर है। इसी बीच दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी संगठन की एक साजिश का खुलासा हुआ है, जिसने सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ा दी है। आतंकियों की ये खौफनाक साजिश यदि कामयाब हो जाती तो सैकड़ों लोग नफ़रत और ख़ून-खराबे की भेंट चढ़ जाते। साथ ही दुश्मनों को देश को कमजोर करने का मौका मिल जाता।

हालांकि 15 अगस्त से पहले सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकियों की इस खौफनाक साजिश को नाकाम कर दिया। राजधानी दिल्ली सहित देश के कई हिस्सों में आतंकी साया मंडरा रहा था। ISIS हिंदुस्तान में बेगुनाह लोगों का खून बहाने की साजिश टेलीग्राम एप्प पर बने ग्रुप पर कर रहा था। आतंकियों ने इस ऑपरेशन को ‘GREEN B1RD’ नाम दिया था।

आखिर क्या है ऑपरेशन “GREEN B1RD’?

इस ऑपरेशन में साजिश साज़िश नंबर 1- बंगाली 138, साज़िश नंबर 2- इस्लामी हिंद, साज़िश नंबर 3- फ्लेम्स ऑफ वॉर, साज़िश नंबर 4-अल-मुतरजिम फ़ाउंडेशन और सबसे आखिरी और सबसे खतरनाक साज़िश नंबर 5 यानी ग्रीन बर्ड्स।

टेलीग्राम पर बना आतंकियों का ये ग्रुप हिंदुस्तान को दहलाने के लिए आतंकियों को तो तैयार कर ही रहा है लेकिन जब इसमें लाल किले की एक आपत्तिजनक तस्वीर पेश की, तो सुरक्षा एजेंसियों के कान खड़े हो गए। इस तस्वीरे में आतंकियों ने ना सिर्फ़ जल्द ही लाल किले पर हमला करने की बात कही थी, बल्कि ये भी लिखा था कि जल्द ही हिंदुस्तान को भी इस्लाम की हुकूमत यानी खिलाफ़त का हिस्सा बना लिया जाएगा।

इस ग्रुप में ये आतंकवादी कोड लैंग्वेज का इस्तेमाल कर अपनी बात रखते थे। कोड लैंग्वेज का इस्तेमाल करने के पीछे उनका तर्क ये था कि उनकी बातें आम ना हो साथ ही इस बात का भी खास ध्यान रखा जा रहा था कि कोई ग़ैर शख्स या पुलिस का मुखबिर धोखे से उनके ग्रुप का मैंबर ना बन जाए लेकिन आख़िरकार वही हुआ, आईएसआईएस को जिसका डर था।

खुफिया एजेंसियों ना केवल आतंकियों के इस ग्रुप को खोज निकाला बल्कि इनके कोडवर्ड्स को भी डी-कोड कर दिया। इस कोड के मुताबिक ग्रीन का मतलब भारत के तीन शहरों दिल्ली, भोपाल और त्रिवेंद्रम से था जबकि बर्ड्स B1RDS लिखा था जिसमें आई की जगह वन लिखा था और इसमें बी-1 मतलब था रेल का कोच नंबर बी-1, आर का मतलब था राजधानी एक्सप्रेस और डीएस का मतलब था दिल्ली साउथ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here