आम आदमी को राहत, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन हुआ फ्री | Online Transaction will be Free, ATM Charges will be decided soon…

0
12
RBI Bank

नई दिल्ली: डिजिटल इंडिया के दौर में हर कोई पैसो का ऑनलाइन लेन-देन करता है। यदि आप भी ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन करते है तो आपक्जे लिए एक खुशखबरी है। रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने RTGS और NEFT पर लगने वाले चार्ज को ख़त्म कर दिया है यानी अब आपको ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन करने पर कोई चार्ज नहीं देना होगा।

RTGS

रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन (RTGS) का एक माध्‍यम है। इसका इस्तेमाल बड़ी राशि को ट्रांसफर करने के लिए होता है। RTGS के तहत न्यूनतम 2 लाख रुपये भेजे जा सकते हैं और अधिकतम राशि भेजने की कोई सीमा नहीं है।

RTGS का इस्तेमाल ऑनलाइन या बैंक branch के माध्यम से किया जा सकता है। RTGS चार्ज ट्रांसफर करने की राशि और समय के हिसाब से अलग-अलग होता रहा है। हालांकि यह सर्विस रविवार और छुट्टी वाले दिनों में उपलब्ध नहीं रहती।

NEFT

नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन का एक आसान तरीका है। इसके तहत फंड ट्रांसफर एक निर्धारित समय पर ही होता है। एनईएफटी में न्यूनतम राशि का कोई प्रतिबंध नहीं है। एनईएफटी से पैसे ट्रांसफर करने के लिए आपके पास लाभार्थी के खाते की जानकारी जैसे उसका नाम, बैंक का नाम, खाता संख्या और आईएफएससी कोड होना चाहिए।

IMPS-MMID

IMPS-MMID की सुविधा केवल मोबाइल बैंकिंग सेवा का प्रयोग कर रहे ग्राहक ही उठा सकते है। इसके लिए आपको अपने मोबाइल नंबर और 7 अंकों के एमएमआईडी नंबर की जरुरत होगी। 24 घंटे आप इस सेवा का लाभ ले सकते है। साथ ही इससे फण्ड भी तत्काल ट्रांसफर होता है।

ECS

ईसीएस की मदद से ग्राहक एक बैंक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में फंड ट्रांसफर कर सकता है। इसके अलावा इससे किसी लोन या क्रेडिट कार्ड का पेमेंट भी किया जा सकता है। अगर आप भी अपने बैंक अकाउंट से ईसीएस पेमेंट की सुविधा लेना चाहते हैं तो बैंक से इस सुविधा को ले सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here